जालंधर में थाने के बाहर हंगामा, विवाहिता को आत्महत्या मामले में उसके घरवालों काे गिरफ्तार

0
55

जालंधर : गोपाल नगर में विवाहिता मनीषा के आत्महत्या मामले में उसके घरवालों ने वीरवार रात दो बजे थाना डिवीजन नंबर दो के बाहर हंगामा कर दिया। युवती को आत्महत्या के लिए उकसाने वाले पति और ससुराल वालों की गिरफ्तारी न होने पर मायके वाले भड़क गए। उन्होंने थाना दो का घेराव कर दिया। हालांकि बाद में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए महिला के पति और देवर को गिरफ्तार कर लिया।

धरना लगाने वाली न्यू माडल हाउस निवासी सुनीता ने बताया की उनकी बेटी मनीषा की शादी 10 साल पहले गोपाल नगर के रहने वाले करण के साथ हुई थी। करण और उसके घरवाले बेटी को दहेज के लिए तंग करते रहते थे। आरोप था कि करण और उसके घरवालों ने उनकी बेटी को मरने पर मजबूर किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि उनकी बेटी ने फंदा लगा जान दे दी। थाना दो पुलिस ने इस मामले की जांच कर धारा 306 के तहत मामला दर्ज कर लिया।

कई महीने बाद दर्ज हुआ मामला

मनीषा के घरवालों का कहना है कि कई महीने हो जाने के बाद मामला दर्ज हुआ था। अब पुलिस आरोपितों को गिरफ्तार नहीं कर रही थी। इसी के चलते थाना दो के बाहर उन्होंने धरना लगाया और आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग की। थाना दो के प्रभारी भूषण कुमार मौके पर पहुंचे और आरोपितों के घर देर रात रेड कर मनीषा के पति और उसके भाई नरेंद्र को गिरफ्तार कर लिया।

मेरे ऊपर झूठा मामला दर्ज किया गयाः आरोपित करण

उधर, आरोपित करण ने बताया की उनके ऊपर झूठा मामला दर्ज किया गया है। उसकी शादी को 10 साल हो गए थे। बच्चा न होने के कारण मनीषा परेशान रहती थी। इसी कारण उसने आत्महत्या की। इसमें उसका और उसके परिवार का कोई कसूर नहीं है। मनीषा के परिवार वाले हमें फंसा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here