10 एथलीट जो भारत को राष्ट्रमंडल खेलों में दिला सकते हैं गोल्ड

0
62
बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेल (Commonwealth Games 2022) शुरू होने में अब 15 दिन से भी कम का समय बचा हुआ है। 28 जुलाई से इंग्लैंड के बर्मिंघम में इसकी शुरुआत होगी। इसमें भारत 215 सदस्यीय दल भेजेगा, जिसमें 108 पुरुष और 107 महिलाएं हैं। 2018 में ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में भारत ने कुल 26 मेडल जीते थे, जिसमें सबसे ज्यादा 7 शूटिंग में मिले थे। इस बार शूटिंग खेलों का हिस्सा नहीं है। इसके बाद भी भारतीय दल में कई गोल्ड के दावेदार हैं। हम आपको उन 10 खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो व्यक्तिगत इवेंट में देश को गोल्ड दिला सकते हैं।

​नीरज चोपड़ा (जैवलिन थ्रो)

ओलिंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा भारत के लिए सबसे बड़े दावेदार हैं। हाल ही में उन्होंने 90 मीटर के करीब थ्रो किया था। उन्होंने पिछली बार ऑस्ट्रेलिया में हुए गेम्स में भी गोल्ड जीता था।

​विनेश फोगाट (रेसलिंग)

53 किग्रा कैटेगरी में विनेश गोल्ड मेडल की सबसे बड़ी दावेदार हैं। उनके पास गेम्स में दो गोल्ड हैं। वह वर्ल्ड चैंपियनशिप में भी मेडल जीत चुकी हैं।

​अमित पंघाल (बॉक्सिंग)

2018 में अमित पंघाल को फाइनल में इंग्लिश बॉक्सर से हार मिली थी। वह सिल्वर को गोल्ड में तब्दील करने उतरेंगे। 51 किग्रा कैटेगरी के इस बॉक्सर के नाम वर्ल्ड चैंपियनशिप मेडल है।

​निखत जरीन (बॉक्सिंग)

निखत जरीन ने मई में वर्ल्ड चैंपियनशिप में गोल्ड जीता था। वह पहली बार खेलों में हिस्सा लेंगी और भारत को गोल्ड दिला सकती हैं।

​रवि कुमार दहिया (रेसलिंग)

ओलिंपक मेडलिस्ट रवि कुमार दहिया 57 किग्रा कैटेगरी में उतरेंगे। उन्हें गोल्ड का प्रबल दावेदार माना जा रहा है। उन्होंने इसी साल एशियन एशियन चैंपियनशिप में भी गोल्ड जीता है।

​मीराबाई चानू (वेटलिफ्टिंग)

ओलिंपिक में तिरंगा लहराने वाली मीराबाई चानू के पास राष्ट्रमंडल खेलों में दो मेडल है। 2014 में सिल्वर और 2018 में गोल्ड। वह गोल्ड जीतकर मेडल की हैट्रिक लगाना चाहेंगी।

​पीवी सिंधु (बैडमिंटन)

​लक्ष्य सेन (बैडमिंटन)

​बजरंग पूनिया (रेसलिंग)

​मनिका बत्रा (टेबल टेनिस)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here