तरनतारन में पुलिस ने धार्मिक स्थानों के आसपास बढ़ाई सुरक्षा, आतंकियों ने करना था पहला धमाका

0
107

तरनतारन: हरियाणा के करनाल में बब्बर खालसा इंटरनेशनल (बीकेआइ) से संबंधित चार आतंकियों की गिरफ्तारी के तीन दिन बाद तरनतारन पुलिस की ओर से दो आतंकियों को ढाई किलो विस्फोटक सामग्री सहित गिरफ्तार किया गया। ये विस्फोटक सामग्री हरियाणा से बरामद खेप की तरह ही थी। पाक की आइएसआइ के इशारे पर पंजाब को दहलाने के लिए खालिस्तान के नाम पर बेरोजगार युवाओं को अपने साथ जोड़ने के लिए खालिस्तानी समर्थकों और गैंगस्टरों के अलावा नशा तस्करों का माड्यूल लगातार कायम हो रहा था, जिसे जिला पुलिस ने तोड़ते हुए बड़ी कामयाबी प्राप्त की है।

रिदा के इशारे पर ही विभिन्न देशों से बकायदा हवाला राशि भी आतंकी माड्यूल को मुहैया करवाई गई थी। पकड़े गए दोनों आतंकियों ने पूछताछ में बताया कि राज्य के धार्मिक स्थल, धार्मिक नेता, सियासी नेताओं के अलावा आम जनता को निशाना बनाने के लिए सार्वजनिकस्थलों पर धमाके करने का टारगेट मिला था और पहला धमाका तरनतारन शहर में किया जाना था। सूत्रों की मानें तो भारत-पाक सीमा के साथ लगते गांवों से संबंधित बेरोजगार युवाओं को संपर्क में लाने के लिए जोबन इस क्षेत्र के कई चक्कर लगा चुका है।

आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद धार्मिक स्थलों के आसपास पुलिस ने चौकसी बढ़ा दी है। हालांकि आम पब्लिक खौफ में न आए, इस लिए पुलिस दावा कर रही है कि सुरक्षा व्यवस्था रुटीन में बढ़ाई गई है। उधर, हिदू नेताओं के साथ भी पुलिस साधते हुए उनकी सुरक्षा का भरोसा दिया है। कहा जाता है कि जो नेता निशाने पर है, उनकी सुरक्षा बढ़ाने के लिए डीजीपी आफिस की ओर से बकायदा रिपोर्ट मांग ली गई है। डीएसपी बरजिदर सिंह कहते है कि पुलिस प्रशासन पूरी तरह से चौकस है। आतंकियों का माड्यूल बेनकाब करके पुलिस ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। यदि जनता को किसी स्थान पर संदिग्ध वस्तु दिखाई देती है तो उससे दूरी बनाकर तुरंत पुलिस को सूचना दी जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here