चंडीगढ़ अदालत में हुए पेश CM भगवंत मान

0
49

चंडीगढ़ : पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान आज चंडीगढ़ जिला अदालत में पेश हुए। दरअसल 10 जनवरी, 2020 को विपक्षी पार्टी के रुप में आम आदमी पार्टी ने पंजाब के तत्कालीन मुख्यमंत्री की कोठी का घेराव करना था। इसी दौरान सेक्टर 3 थाना पुलिस ने आप नेताओं को रोकने का प्रयास किया था। आप नेताओं की पुलिस के साथ झड़प हो गई थी। पुलिस ने आप नेताओं पर विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया था। इसी सिलसिले में भगवंत मान आज चंडीगढ़ जिला अदालत में पहुंचे थे। जानकारी के मुताबिक सुबह सवा 10 बजे के लगभग ही भगवंत मान पुलिस सुरक्षा के बीच जिला अदालत आ गए थे। यहां सीजेएम कोर्ट में मामले की सुनवाई हुई। प्रारंभिक जानकारी के मुताबिक आपराधिक मामले में कोर्ट ने आप नेताओं को समन किए थे। भगवंत मान का नाम भी इस केस में है। इसी के चलते वह कोर्ट पहुंचे थे।

जनवरी 2020 में पंजाब में बिजली के मुद्दे पर आम आदमी पार्टी ने तत्कालीन कांग्रेस सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया था। सैंकड़ों की संख्या में आप कार्यकर्ताओं ने चंडीगढ़ में प्रदर्शन किया था। पुलिस ने आप नेताओं समेत कई अज्ञात कार्यकर्ताओं के खिलाफ केस दर्ज किया था। भगवंत मान समेत अन्यों पर पुलिस ने दंगा करने, हमला करने, पुलिस की ड्यूटी में बाधा पहुंचाने और सरकारी आदेशों की उल्लंघना करने जैसी धाराओं में केस दर्ज किया था। जानकारी के मुताबिक 800 के लगभग अज्ञात कार्यकर्ताओं पर भी यह केस दर्ज हुआ था। जब पुलिस ने यह केस दर्ज किया था तब मान संगरुर से सांसद थे और पंजाब युनिट के चीफ थे। व्यापक स्तर पर हुए इस प्रदर्शन से कानून व्यवस्था पर भी सवाल खड़े हुए थे। आप नेताओं और कार्यकर्ताओं ने पंजाब के तत्कालीन मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की कोठी का घेराव करना था। आप कार्यकर्ताओं ने पुलिस बैरिकेडिंग को फांदने की कोशिश भी की थी। इन पर वाटर कैनन का इस्तेमाल किया गया था।

पिछले वर्ष सितंबर में पुलिस ने सीजेएम कोर्ट में मान समेत अन्यों के खिलाफ चार्जशीट दायर की थी। इनमें 7 विधायक भी थे। कुल 10 आप नेताओं के खिलाफ चार्जशीट दायर की गई थी। एमएलए हॉस्टल, सेक्टर 4 के पास 10 जनवरी, 2020 को यह प्रदर्शन हुआ था। प्रदर्शन में भगवंत मान, अमन अरोड़ा समेत हरपाल सिंह चीमा, बलजिंदर कौर, मीत हेयर, कुलतार सिंह सांधवा, मंजीत सिंह बिलासपुर, बलदेव सिंह आदि नेता शामिल थे। पुलिस केस के मुताबिक आप कार्यकर्ताओं ने पत्थर भी मारे थे। इसमें पुलिस के आधा दर्जन के लगभग कर्मी घायल हो गए थे। वहीं आप का दावा था कि दो दर्जन ने ज्यादा आप कार्यकर्ता भी घायल हुए थे। इनमें विधायक अमन अरोड़ा भी शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here