पाक में हिंदु लड़कियों पर हो रहे अत्याचारों पर अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग करे कार्रवाई: अविनाश खन्ना

    0
    52

    होशियारपुर। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व सांसद अविनाश राय खन्ना ने पाकिस्तान में हिंदु लड़कियों को जबरदस्ती किडनैप कर धर्म परिवर्तन करवाने तथा शादी करने की घटनाओं में हो रही बढ़ौतरी पर कड़ा संज्ञान लेते हुए अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को पत्र लिखकर इस संबंध में ठोस कार्रवाई कर पाक में रह रही अल्पसंख्यक हिंदुओं के हक सुरक्षित करने की मांग की। इस संबंधी जानकारी देते हुए श्री खन्ना के कार्यालय से ज्योति कुमार जौली ने कहा कि खन्ना ने गत दिनों लाहौर के अखबार में छपी खबर जिसमें एक 17 वर्षीय नैना नाम की हिंदु लडक़ी को जबरदस्ती किडनैप किया गया तथा जिससे जबरदस्ती शादी कर उसका धर्म परिवर्तन करवाया गया। इस समाचार पत्र में छपी खबर पर कड़ा संज्ञान लेते हुए श्री खन्ना ने अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकारियों को पाक में दिन-प्रतिदिन बढ़ रही अल्पसंख्यकों पर की जा रही जबरदस्ती तथा अल्पसंख्यक समुदाय की लड़कियों को जबरदस्ती किडनैप कर धर्म परिवर्तन कराने तथा उनसे शादी करवाने के मामले पर चिंता प्रकट करते हुए आयोग को इस संबंधी ठोस कार्रवाई कर ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए पत्र लिखा। श्री खन्ना ने बताया कि पाकिस्तान मानवाधिकार कमिशन की रिपोर्ट के अनुसार 2018 में आयोग को 1000 के करीब अल्पसंख्यकों को जबरदस्ती किडनैप कर उनका धर्म परिवर्तन करना व शादी रचाने के मामले दर्ज किये गए हैं। जोकि अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के लिए चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि पाक में आज अल्पसंख्यक अपने आप को एक बंधक की तरह जीवन जीने के लिए मजबूर है तथा उनके व उनके परिवार के साथ इस वक्त कौन सी घटना हो जाए इसका उन्हें हर समय डर बना रहता है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में ऐसी घटनाओं का शिकार होने वाले परिवारों में ज्यादातर हिंदु व क्रिश्चियन समुदाय से संबंधित परिवार होते हैं। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग से पाक में हो रही अल्पसंख्यकों पर ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कार्रवाई करने व दबाब बनाने की बात कही ताकि पाक में रह रहे अल्पसंख्यक हिंदु, सिख, इसाई, अपना जीवन आराम से जी सके। श्री खन्ना ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को भी इस घटना संबंधी पत्र लिख जानकारी देते हुए पाक के रह रहे अल्पसंख्यक हिंदुओं का जीवन सुरक्षित करने की मांग की।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here