जल सरंक्षण के लिए कैबिनेट मंत्री ने अडाप्ट किए 30 सरकारी स्कूल

    0
    167

    होशियारपुर ( रुपिंदर  ): कैबिनेट मंत्री पंजाब श्री सुंदर शाम अरोड़ा ने जल सरंक्षण के लिए एक बेहतरीन पहल करते हुए 30 सरकारी स्कूलों को अडाप्ट किया है, जहां रेन वाटर हारवेस्टिंग सिस्टम लगाए जाएंगे। श्री अरोड़ा ने आज जिला प्रबंधकीय कांप्लेक्स होशियारपुर में प्रैस कांफ्रेंस के दौरान स्कूलों में सिस्टम लगाने के अलावा अन्य अलग -अलग कार्यों के लिए 98 लाख रुपए का चैक डिप्टी कमिश्नर श्रीमती ईशा कालिया को सौंपा।
    उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि 98 लाख रुपए की राशि से अलग -अलग कार्य संपन्न किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि पानी की संभाल के लिए 30 सरकारी स्कूल अडापट किए गए हैं और इन सरकारी स्कूलों में रेनवाटर हारवेस्टिंग सिस्टम लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि किला बरु न व पिपलांवाला के दो स्कूलों सहित कुल तीन सरकारी स्कूलों में शुरु  किए गए रेन वाटर हारवेस्टिंग सिस्टम की सफलता के बाद अब 30 अन्य स्कूलों में इसकी शुरुआत की जा रही है, जिससे भू जल स्तर को सुधारा जा सके। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार की ओर से पानी संभालने के लिए विशेष प्रयास किए जा रहे हैं और इसी कड़ी के अंतर्गत होशियारपुर के सरकारी स्कूलों में रेन वाटर हारवेस्टिंग सिस्टम लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस सिस्टम के साथ से वर्षा जल के साथ व्यर्थ हो रहे पीने वाले पानी को भी संभाला जाएगा।
    श्री अरोड़ा ने कहा कि पंजाब सरकार प्रदेश के विकास के लिए वचनबद्ध है व समाज के हर वर्ग का जीवन स्तर ऊंचा उठाने के लिए जी-तोड़ प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि होशियारपुर के विकास के लिए भी कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी जाएगी। उन्होंने लगातार नीचे जा रहे भू जल स्तर पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि मौजूदा समय में ऐसे प्रयासों की सख्त जरु रत है। उन्होंने जिला वासियों से अपील करते हुए कहा कि जल सरंक्षण के लिए हर व्यक्ति को आगे आने की जरु रत है, क्योंकि प्रकृति के इस अनमोल खजाने की संभाल के लिए सबकी हिस्सेदारी बहुत जरु री है। उन्होंने कहा कि 15 सरकारी स्कूलों में नए शौचालय भी बनाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि रेन वाटर हारवेस्टिंग सिस्टम व नए शौचालय बनाने पर 45 स्कूलों के लिए 75 लाख रुपए खर्च किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि रेन वाटर हारवेस्टिंग सिस्टम पर 2 लाख रुपए का खर्चा आएगा। उन्होंने कहा कि होशियारपुर ऐसा विधान सभा क्षेत्र है जहां सभी सरकारी प्राइमरी स्कूलों में स्मार्ट क्लासरु म व पीने वाले शुद्ध पानी के लिए आर.ओज लगाए जा चुके हैं।
    श्री अरोड़ा ने कहा कि डेंगू की रोकथाम के लिए 7 लाख रुपए की लागत से स्वास्थ्य विभाग को 15 फागिंग मशीनें भी दी जा रही हैं, जिससे डेंगू को पैदा होने से पहले ही रोका जा सके। उन्होंने कहा कि होशियारपुर के 50 वार्डों में यह फागिंग मशीने चलेंगी व एक मशीन तीन वार्ड कवर करेगी। उन्होंने कहा कि होशियारपुर वासियों के लिए सुविधाओं के पक्ष से कोई कमी नहीं रहने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि 16 लाख रुपए की लागत से स्वास्थ्य विभाग को एक ए.सी. बस दी जा रही है। यह बस मार्चरी वैन के साथ चलेगी, जिससे परिवार व रिश्तेदारों को आने -जाने में कोई मुश्किल न आ सके। उन्होंने पत्रकारों के सवालों का जवाब देते कहा कि 1 अगस्त से शुरू होने वाले माता चिंतपूर्णी मेले के दौरान संगतों को कोई समस्या नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि संगतों की सुविधा के लिए 25-25 बिस्तरों वाले 10 वाटर प्रूफ शैड बनाए जा रहे हैं, जहां संगते आराम कर सकती हैं और यहां लगातार पीने वाले पानी व चाय का प्रबंध किया जाएगा।
    डिप्टी कमिश्नर श्रीमती ईशा कालिया ने कहा कि जल्दी ही 30 स्कूलों में रेन वाटर हारवेस्टिंग सिस्टम लगवा दिए जाएंगे, जबकि फागिंग मशीने भी जल्दी ही काम करना शुरू कर देंगी। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासनिक कांप्लेक्स में भी रेन वाटर हारवेस्टिंग की शुरुआत की जा रही है, जिससे बारिश के पानी को सही रूप में धरती के नीचे भेजा जा सके। उन्होंने जिला वासियों से अपील करते कहा कि डेंगू के सीजन के दौरान सावधानी बरती जाए, जबकि पानी का दुरुपयोग बिल्कुल न किया जाए। इस मौके पर जिला शिक्षा अधिकारी(से) श्री बलबीर सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी(ए)श्री संजीव गौतम, शहरी कांग्रेस अध्यक्ष एडवोकेट राकेश मरवाहा, देहाती कांग्रेस अध्यक्ष कैप्टन कर्म चंद, श्री शादी लाल, श्री मनमोहन सिंह कपूर, श्री अनिल कुमार सोनू के अलावा अन्य गणमान्य भी उपस्थित थे।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here