घर-घर रोजगार पोर्टल पर 18 हजार से अधिक नौजवान व 100 से अधिक नियोजक हो चुके हैं रजिस्टर्ड

    0
    212

    होशियारपुर (रुपिंदर )पंजाब सरकार के मिशन घर-घर रोजगार के अंतर्गत नौजवानों को रोजगार के अधिक से अधिक अवसर दिलाए जा रहे हैं। यही कारण है कि अब तक 18 हजार से अधिक नौजवान घर-घर रोजगार पोर्टल पर रजिस्टर्ड हो चुके हैं। यह विचार अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर(विकास) श्रीमती अमृत सिंह ने जिला रोजगार व कारोबार ब्यूरो में उद्योगपतियों के साथ बैठक के दौरान रखे। उन्होंने उद्योगपतियों को जिला रोजगार व कारोबार ब्यूरो में युवकों को दी जा रही सुविधाएं जैसे कि नि:शुल्क इंटरनेट की सुविधा, बच्चों की हर विषय की काउंसलिंग, नौकरियों संबंधी जानकारी, विदेशी रोजगार व पढ़ाई संबंधी जानकारी, स्व रोजगार योजनाओं संबंधी जानकारी, स्किल कोर्सों संबंधी जानकारी, घर-घर रोजगार पोर्टल पर जाब सीकर व नियोजकों की रजिस्ट्रेशन आदि के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि रोजगार प्राप्त करने के लिए युवकों के अलावा 100 से अधिक नियोजक भी घर-घर रोजगार पोर्टल पर रजिस्टर्ड हो चुके हैं व इस पोर्टल के माध्यम से नियोजकों व जाब सीकर का सीधा संपर्क हो चुका है। इस पोर्टल के माध्यम से नियोजक बहुत फायदा ले सकते हैं। उन्होंने सभी उद्योगपतियों को इस पोर्टल पर अपनी रजिस्ट्रेशन करवाने की सलाह दी।
    अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर(विकास) श्रीमती अमृत सिंह ने इस दौरान उद्योगपतियों से जरु री मैनपावर से संबंधित जानकारी हासिल की ताकि जरु रतमंद युवकों को इन उद्योगों में रोजगार दिलाया जा सके। उन्होंने कहा कि सभी उद्योगपति जरु री मैनपावर की सूचना हर माह रोजगार ब्यूरो को दें ताकि समय पर जरु रतमंद युवकों से संपर्क कर उनको रोजगार मुहैया करवाया जा सके। उन्होंने उद्योगपतियों से कहा कि वे रोजगार ब्यूरो कार्यालय को यह सूचना जरु र उपलब्ध करवाएं कि उनके उद्योग को कौन-कौन से ट्रेडों में ज्यादा मैनपावर की जरु रत हैं, परंतु उनकी जरु रत के मुताबिक उन्हें नौजवान उपलब्ध नहीं हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसा पता लगने पर बच्चों के लिए स्किल कोर्सों की पहचान कर इस तरह के कोर्स करवा जाएंगे ताकि उद्योगपतियों को उनकी जरु रत के मुताबिक मैन पावर मुहैया करवाई जा सके। उन्होंने बैठक के दौरान जानकारी दी कि पंजाब सरकार की ओर से सितंबर माह में मैगा रोजगार मेले आयोजित किए जा रहे हैं। इन रोजगार मेलों में सभी उद्योगपति पूरा सहयोग देते हुए अधिक से अधिक रोजगार रोल रोजगार ब्यूरो को दें ताकि जरु रतमंद नौजवानों को रोजगार दिए जा सकें। उन्होंने कहा कि दिव्यांगजन को भी अपने अपने संस्थानों में नौकरियां प्रदान की जाए ताकि इन जरु रतमंद नौजवानों को भी अधिक से अधिक रोजगार के मौके प्रदान कर इनकी सहायता की जा सके।
    इस दौरान जिला रोजगार सृजन व ट्रेनिंग अधिकारी श्री गुरमेल सिंह, जिला काउंसलर श्री आदित्य राणा, प्लेसमेंट अधिकारी श्रीमती पैरी सैनी, जिला उद्योग केंद्र के फंक्शनल मैनेजर श्री अरु ण कुमार, रयात-बाहरा इंस्टीट्यूट से डा. एच.पी.एस. धामी, श्री अर्शदीप सिंह, श्री राम लाल, श्री रजनीश कुमार, श्री जे.एस. चौहान, श्री कुलवंत सिंह, श्री नरिंदर राणा, श्री देस राज, श्री धीरज सेठी, श्री गुरदीप सिंह, श्री अजय, श्री नरेश तितवारी, श्री परमजीत सिंह, श्री सतीश अग्रवाल के अलावा विभिन्न विभागों व औद्योगिक इकाईयों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।
    —–

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here