सरकारी कैटल पाउंड के सुचारु  संचालन के लिए ज्यादा से ज्यादा संस्थाओं व लोगों को जोड़ा जाए : डिप्टी कमिश्नर 

    0
    184

    होशियारपुर (रुपिंदर )   सरकारी कैटल पाउंड फलाही के साथ ज्यादा से ज्यादा सामाजिक संस्थाओं व लोगों को जोड़ा जाए ताकि इसका और बेहतर तरीके से संचालन किया जा सके। यह विचार डिप्टी कमिश्नर श्रीमती ईशा कालिया ने सरकारी कैटल पाउंड फलाही में जिला पशु भलाई सोसायटी की बैठक को संबोधित करते हुए रखे। इस दौरान उनके साथ अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर(विकास) श्रीमती अमृत सिंह भी उपस्थित थे। इस दौरान उन्होंने कैटल पाउंड का दौरा कर यहां के कार्यों की समीक्षा भी की।
    डिप्टी कमिश्नर ने इस दौरान कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे कैटल पाउंड के कुछ स्थान पर हरा चारा लगाने की व्यवस्था करें ताकि पशुओं के लिए हरा चारा आसानी से उपलब्ध हो सके। उन्होंने पशु भलाई सोसायटी को यहां साइलो पिट बनाने के निर्देश भी दिए ताकि पशुओं के लिए हरेचारे का आचार बनाया जा सके। यह आचार तब प्रयोग में लाया जाएगा जब पशुओं के लिए हरे चारे के कमी सामने आएगी। इस दौरान सामाजिक संस्था नई सोच की ओर से पशुओं के लिए पीने के पानी के लिए बनाई जा रही खुरलियों की डिप्टी कमिश्नर ने प्रशंसा की।
    श्रीमती ईशा कालिया ने कहा कि कैटल पाउंड का विकास जन सहयोग से ही संभव हो सकता है, इस लिए ज्यादा से ज्यादा लोग यहां आएं और गौवंश की सेवा कर यथासंभव योगदान दें। उन्होंने कहा कि सामाजिक संस्थाओं का इसमें बहुत योगदान है जो कि समय-समय पर कैटल पाउंड के विकास के लिए तैयार रहती हैं। उन्होंने पशु पालन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे पशुओं के लिए जरु री दवाईयां उपलब्ध करवाएं ताकि किसी तरह की कोई दिक्क त का सामना न करना पड़े। उन्होंने पशु भलाई सोसायटी को निर्देश दिए कि कैटल पौंड में अधिक से अधिक पौधारोपण किया जाए। उन्होंने पशु पालकों को अपील करते हुए कहा कि वे अपने पशुओं को सडक़ों पर लावारिस न छोड़ें, क्योंकि यह अक्सर दुर्घटनाओं का कारण बनते हैं। उन्होंने शहर के अन्य गौ सेवकों को भी कैटल पाउंड के विकास के लिए यथा संभव योगदान का आह्वान किया।
    इस दौरान डिप्टी डायरेक्टर पशु पालन विभाग डा. हरजीत सिंह, जिला विकास व पंचायत अधिकारी श्री सर्बजीत सिंह बैंस, नोडल अधिकारी सरकारी कैटल पाउंड फलाही डा. मनमोहन सिंह दर्दी, नई सोच संस्था के प्रतिनिधि श्री अशोक सैनी के अलावा विभिन्न विभागों के अधिकारी व पशु भलाई कमेटी के सदस्य भी उपस्थित थे।
    —-

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here