पानी बचाओ-पंजाब बचाओ कमेटी ने किसान मजदूर संघर्ष कमेटी के साथ मिलकर जिलाधीश को सौंपा ज्ञापन

    0
    156

    होशियारपुर (जनगाथा टाइम्स ) पानी बचाओ-पंजाब बचाओ संघर्ष कमेटी ने किसान मजदूर संघर्ष कमेटी पंजाब के साथ मिलकर जिलाधीश ईशा कालिया को कोकाकोला फैक्ट्री के खिलाफ एक ज्ञापन सौंपा। इस मौके पर वीर प्रताप राणा ने बताया कि किसान मजदूर संघर्ष कमेटी पंजाब ने अपने मांग पत्र में कहा कि जिला होशियारपुर से ऊना रोड पर कोकाकोला की फैक्ट्री जो लगी हुई है, इसका कैमिकल वाला गंदा पानी बोरों द्वारा धरती में डाला जा रहा है। जिससे इलाके का पीने वाला पानी खराब हो रहा है। जिससे धरती का निचले पानी का स्तर नीचे जा रहा है। एक लीटर कोक की बोतल तैयार करने के लिए 23 लीटर पानी की बर्बादी हो रही है। उन्होंने कहा कि गांव टाहली, गंदूवाल, फत्ता कुला, महिताबपुर के अबादकार किसानों को पक्के मालकी हक दिए जाएं, क्योंकि इन जमीनों में किसान मजदूर 40-50 वर्षों से अपने घर बनाकर बैठे हुए हैं। उन्होंने यह भी बताया कि अबादकार किसानों के जंगलात विभाग दसूहा के डी.एफ.ओ. द्वारा डाले झूठे केस की जांच करके रद्द किए जाएं, गांव गंदूवाल में बलजीत सिंह पुत्र गुरमुख सिंह ने अपनी पत्नी और अपने बेटे के नाम 154 कनाल जमीन दरिया में खरीद है जोकि सांझे खाते है। उस जमीन पर भी धक्के के साथ जंगलात विभाग पौधे लगाता है। उन्होंने अपील की कि डी.एफ.ओ. दसूहा व रेज अधिकारी दसूहा को धक्केशाही करने से रोका जाए। उन्होंने बताया कि 7 अक्तूबर को डी.एफ.ओ. दसूहा द्वारा दरिया में बुरजिया और तार लगाने के लिए गए वहां किसान मजदूर संघर्ष कमेटी ने विरोध किया और जंगलात विभाग को धक्केशाही करने से रोका।
    उन्होंने जिलाधीश से अपील की कि डी.एफ.ओ. को धक्केशाही से रोका जाए नहीं तो किसान मजदूर संघर्ष कमेटी को संघर्ष करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। इस मौके पर जिला प्रधान कुलदीप सिंह बेगोवाल, जतिंदर भोलू व अन्य सदस्य मौजूद थे।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here