जिला एवं सत्र न्यायधीश ने नि:शुल्क कानूनी सेवाओं हेतु जागरुकता रैली को हरी झंडी दिखा किया रवाना

    0
    143

    होशियारपुर( जनगाथा टाइम्स ) जिला कानूनी सेवाएं अथारिटी की ओर से आज नि:शुल्क कानूनी सेवाएं संबंधी जागरु कता रैली निकाली गई। रैली को जिला एवं सत्र न्यायधीश-कम- चेयरमैन जिला कानूनी सेवाएं अथारिटी श्रीमती अमरजोत भट्टी ने हरी झंडी दिखा रवाना किया। इस मौके पर एस.एस.पी. श्री गौरव गर्ग, सी.जे.एम.-कम-सचिव जिला कानूनी सेवाएं अथारिटी श्रीमती सुचेता आशीष देव व अन्य ज्यूडिशियल अधिकारी भी विशेष तौर पर उपस्थित थे। यह रैली कोर्ट कांप्लेक्स से शुरु होकर माहिलपुर अड्डा, सैशन चौक से होते हुए सरकारी कालेज जाकर संपन्न हुई। इस जागरु कता रैली में स्वामी सर्वानंदगिरी लॉ कालेज, रेलवे मंडी कन्या सीनियर सेकेंडरी स्कूल, पी.डी. आर्या. सीनियर सेकेंडरी स्कूल, सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल घंटा घर, सरकारी कालेज के विद्यार्थियों ने हिस्सा लेकर लोगों को नि:शुल्क कानूनी सेवाओं व अथारिटी की योजनाओं के बारे में जागरु क किया।
    सी.जे.एम.-कम-सचिव जिला कानूनी सेवाएं अथारिटी श्रीमती सुचेता आशीष देव ने इस दौरान बताया कि जिला कानूनी सेवाएं अथारिटी की ओर से लोगों को नि:शुल्क कानूनी सहायता मुहैया करवाई जा रही है, जिसके लिए जिला वासियों को अधिक से अधिक इसका लाभ लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि लोगों को उनके कानूनी अधिकारों के प्रति जागरु क करना जिला कानूनी सेवाएं अथारिटी का उद्देश्य है। इस लिए जिला कानूनी सेवाएं अथारिटी की ओर से होशियारपुर में जरु रतमंदों को नि:शुल्क कानूनी सलाह व सहायता भी दी जा रही है, जिसके लिए कई गांवों में लीगल एड क्लीनिक भी खोले गए हैं। उन्होंने बताया कि लीगल लिटरेसी की जानकारी आम जनता तक पहुंचाने के लिए जागरु कता कैंपों का भी आयोजन किया जाता है।
    श्रीमती सुचेता आशीष देव ने बताया कि नि:शुल्क कानूनी सहायता हासिल करने के लिए कोई भी जिला कानूनी सेवाएं अथारिटी के फ्रंट आफिस में संपर्क कर सकता है या वह टोल फ्री नंबर 1968 पर किसी भी समय संपर्क कर सकता है। उन्होंने बताया कि 14 दिसंबर को राष्ट्रीय लोक अदालत भी लगाई जा रही है। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि अधिक से अधिक केस लोक अदालत में लगाए जाएं। इससे समय व धन दोनों की बचत होती है। उन्होंने बताया कि लोक अदालत के फैसले को दीवानी डिकरी की मान्यता प्राप्त होती है।
    —-

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here