तिवारी ने चंदूमाजरा की बहस की चुनौती कबूली; उन्हें समय, जगह का चुनाव करने को कहा

    0
    153

    मोहाली (जनगाथा टाइम्स )  श्री आनंदपुर साहिब लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार मनीष तिवारी ने अकाली दल के उम्मीदवार प्रेम सिंह चंदूमाजरा की उन्हें  श्रीआनंदपुर साहिब लोकसभा क्षेत्र के विकास को लेकर अलग-अलग मुद्दों पर दी गई बहस की चुनौती को स्वीकार कर लिया है।

    उन्होंने खरड़ विधानसभा क्षेत्र में सीनियर पार्टी नेता और पूर्व मंत्री जगमोहन सिंह कंग की ओर से आयोजित श्रृंखलाबद्ध जनसभाओं को संबोधित करते हुए, चंदूमाजरा सेकहा कि वह आपके बहुत धन्यवादी है कि आपने मुझे अपने साथ अलग-अलग मुद्दों पर बहस करने का मौका दिया है, जिससे ना सिर्फ हम दोनों एक-दूसरे को जान सकेंगे, बल्कि श्री आनंदपुर साहिब के लोग भी हम दोनों को जान जाएंगे।

    तिवारी ने चुनौती को स्वीकार करते हुए कहा कि उन्होंने हमेशा से स्थानीय, राष्ट्रीय या फिर अंतरराष्ट्रीय स्तर के सभी मुद्दों पर बहस करना पसंद किया है, खासकर जोविकास से संबंधित है। उन्होंने कहा कि चंदूमाजरा का समय, जगह और उन अलग-अलग मुद्दों का भी चुनाव करने के लिए स्वागत है, जिन पर वह उनसे बहस करना चाहतेहैं।

    तिवारी ने चंदूमाजरा से कहा कि मामला चाहे पंजाब में उनके योगदान से जुड़ा हो या फिर आपके योगदान से, चाहे बात केंद्र में एनडीए सरकार के 5 सालों के प्रदर्शन की होया फिर बरगाड़ी बेअदबी की और या फिर आपकी श्री आनंदपुर साहिब लोकसभा क्षेत्र में गैर मौजूदगी की, जिसके चलते लोग आपके खिलाफ “वापस जाओ” के नारे लगानेको तैयार हो गए, वह आपके साथ किसी भी मुद्दे पर बहस को तैयार हैं और वह आपसे आपका पसंदीदा समय और जगह सुनने का इंतजार कर रहे हैं।

    कांग्रेस के प्रवक्ता ने कहा कि वह चंदूमाजरा की लोगों के गुस्से के चलते परेशानी को समझ रहे हैं, जिनके गुस्से का वह श्री आनंदपुर साहिब हल्के में ‘वापस जाओ” के नारोंके साथ हर जगह सामना कर रहे हैं। उन्होंने अकाली उम्मीदवार को चुनौती देते हुए कहा कि अब आपने एक चुनौती दी है और वह उम्मीद करते हैं कि आप उससे नहींभागेंगे।

    तिवारी ने कहां कि हालांकि वह किसी के समक्ष अपने बहस करने के हुनर का प्रदर्शन नहीं करना चाहते, खासकर चंदूमाजरा जैसे व्यक्ति के लिए, मगर वह इस चुनौती कोनकारना भी नहीं चाहते, क्योंकि इससे श्री आनंदपुर साहिब के लोगों को उन दोनों का मूल्यांकन करने का मौका मिलेगा और वे 19 मई को सही फैसला ले सकेंगे।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here