डिप्टी कमिश्नर ने गांव पंडोरी गंगा सिंह के प्रगतिशील किसानों की प्रशंसा की

    0
    117

    होशियारपुर (जनगाथा टाइम्स ) मिशन तंदुरु स्त पंजाब के अंतर्गत जिला प्रशासन की ओर से जहां किसानों को धान की पराली को आग न लगा कर गेहूं की सीधी बिजाई के लिए जागरु क किया जा रहा है वहीं कृषि विज्ञान केंद्र की निगरानी में जिले के गांव पंडोरी गंगा सिंह के जागरु क किसानों ने अभी तक 120 एकड़ रकबे में बिना आग लगाए हैप्पी सीडर की मदद से गेहूं की सीधी बिजाई की है। इस गांव के किसानों ने रबी सीजन 2019 के दौरान पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी धान की कटाई, सुपर एस.एम.एस.(स्ट्रा मैनेजमेंट सिस्टम) लगी कंबाइन से करने के बाद हैप्पी सीडर तकनीक की विधि को अपनाते हुए वातावरण हितैषी होने का सबूत दिया है।
    डिप्टी कमिश्नर श्रीमती ईशा कालिया ने गांव के किसानों की प्रशंसा करते हुए कहा कि मिशन तंदुरु स्त पंजाब के अंतर्गत फैलाई जागरु कता के कारण गांव पंडोरी गंगा सिंह के किसानों ने पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी बेहतरीन काम किया है, जिसके लिए वे बधाई के पात्र है। उन्होंने कहा कि जिले के अन्य स्थानों में भी किसान जागरु क होकर धान की पराली को बिना आग लगाए गेहूं की सीधी बिजाई कर रहे हैं।
    श्रीमती ईशा कालिया ने बताया कि वातावरण की शुद्धता व जमीन की उपजाऊ शक्ति बरकरार रखने के लिए फसलों के अवशेषों को आग न लगाई जाए, बल्कि इसका प्रबंधन खेत में ही करने को प्राथमिकता दी जाए। उन्होंने कहा कि जिले में किसानों ने बड़े स्तर पर सुपर एस.एम.एस. कंबाइन से धान की कटाई करने के उपरांत हैप्पी सीडर से गेहूं की सीधी बिजाई की है।
    कृषि विज्ञान केंद्र होशियारपुर के डिप्टी डायरेक्टर(ट्रेनिंग) डा. मनिंदर सिंह बौंस ने बताया कि कृषि विज्ञान केंद्र की ओर से एक जागरु कता अभियान चला कर पराली को संभालने संबंधी तकनीकों की विशेष प्रदर्शनियां लगाई गई है। उन्होंने बताया कि ब्लाक माहिलपुर का गांव पंडोरी गंगा सिंह धान की पराली का खेत में ही प्रबंधन कर पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी अग्रणी गांव के तौर पर उभरा है। उन्होंने कहा कि गांव के किसानों ने 120 एकड़ रकबे में बिना आग लगाए हैप्पी सीडर से गेहूं की बिजाई की है वहीं अभी और बिजाई होने की संभावना है। इसके साथ ही पराली की गांठे बनाने वाली मशीन, बेलर से भी लगभग 100 एकड़ रकबे पर पराली को संभाला जा चुका है। इसके साथ-साथ रोटावेटर व जीरो टिल्ल ड्रिल से भी बिना आग लगाए बिजाई की गई है।
    उन्होंने बताया कि गांव के अग्रणी किसान सरपंच कैप्टन मनोहर सिंह, श्री दीदार सिंह, श्री तीर्थ सिंह, श्री हरपाल सिंह, श्री कुलवरण सिंह, श्री मनजिंदर सिंह, श्री संदीप सिंह, श्री मनजिंदर सिंह भंगू, श्री गुरप्रीत सिहं, श्री हरजिंदर सिंह, श्री गुरदीप सिंह, श्री कुलवंत सिंह, श्री जगदीप सिंह ने भी पराली को खेत में ही संभाल कर गेहूं की सफलतापूर्वक सीधी बिजाई की है।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here