भाजपा ने इमरजेंसी के विरोध में काला दिवस मनाया।

    0
    120

    होशियारपुर(शाम शर्मा )जिल भाजपा द्वारा आज के ही दिन साल 1975 में इंदिरा शासनकाल के दौरान लगाई गई इमरजेंसी के विरोध में काला दिवस मनाया गया इस मौके पर पंजाब भाजपा के वरिष्ठ नेता व पूर्व कैबिनेट मंत्री तीक्ष्ण सूद विशेष तौर पर उपस्थित रहे।                                   भाजपा ने इमरजेंसी के विरोध में काला दिवस मनाया।
    कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए श्री सूद ने कहा कि इंदिरा गांधी के शासन काल में आज के ही दिन देश में आपातकाल लगाकर लोकतंत्र की हत्या कर दी गई थी।मीडिया न्यायपालिका कार्यपालिका आदि पर अंकुश लगा दिया गया।लाखों देशभक्तों को अमानवीय यातनाएं देकर जेलों में ठूंस दिया गया। देश के हर कोने में हाहाकार मचा दी थी।राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर प्रतिबंध लगा कर सैंकड़ों कार्यकर्ताओं को जेल भेज दिया था।जोकि भारत के इतिहास में काला अध्याय लिख गया।इसी के विरोध में हर साल आज के दिन भाजपा काला दिवस के रूप में मनाती है।ताकि आने वाली पीढ़ियां कांग्रेस के इस काले इतिहास के बारे में जान सके और उस समय देश के लिए जानें न्योछावर करने वाले को भी याद कर सके।देश की राजनीति का यह काला दिन हमेशा कांग्रेस के उस घिनौने चेहरे को उजागर करेगा जिसमें तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने आपातकाल के समय बुजुर्ग,महिलाओं, युवाओं,बच्चों आदि पर घोर जुल्म किए थे।
    जिला भाजपा अध्यक्ष श्री विजय पठानिया ने कहा कि कांग्रेस ने आपातकाल लगाकर लाखों लोगों को जेलों में बंद कर दिया था। विपक्षी नेताओं को बिना सुनवाई के 19 महीनों तक जेलों में बंद रखा गया था। यह कार्रवाई लोकतंत्र की हत्या थी। देश की जनता से उनके मौलिक अधिकार छीन लिए गए थे। कांग्रेस की लोकतंत्र विरोधी नीतियों के विरोध में काला दिवस मनाने का निर्णय लिया था।
    इस मौके पर जिला उपाध्यक्ष सुरेश भाटिया,कुलवंत कौर,आदि नेताओं ने भी अपने विचार प्रकट किए।
    इस मौके पर आनदवीर सिंह, अनिल हंस,दर्पण गुप्ता,संतोख सिंह,राकेश सूद,मीनू सेठी,कविता परमार,मुखीराम,अमरजीत लाडी,चिंटू हंसअतुल सूद पिंकी,अश्वनी विग,रंजीत राणा,जिन्दू सैनी,राजीव कोहली,मिंटा सैनी,संजू अरोड़ा,कुलदीप सोढ़ी,राजकुमार, महिंदरपाल,पाल सिंह,सुदामा राय,मनसा राम,अमित आंगरा, प्रमोद सूद,यशपाल शर्मा,विनय कुमार आदि उपस्थित थे।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here