अदालत में चालान पेश करने के बदले 20,000 रुपए रिश्वत लेता ए.एस.आई. विजीलैंस ब्यूरो द्वारा काबू

0
837
चंडीगढ़, तेजपाल : राज्य में भ्रष्टाचार के विरुद्ध शुरु की मुहिम के दौरान पंजाब विजीलैंस ब्यूरो ने संगरूर जिले के थाना शेरपुर में तैनात सहायक सब इंस्पेक्टर (ए.एस.आई.) दर्शन सिंह को 20,000 रुपए रिश्वत मांगने और लेने के दोष अधीन काबू किया है।
इस सम्बन्धी जानकारी देते हुये विजीलैंस ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि उपरोक्त पुलिस मुलाज़ीम को बिन्दर सिंह निवासी गाँव हेड़ीके, ज़िला संगरूर की तरफ से दर्ज करवाई गई शिकायत के आधार पर गिरफ़्तार किया गया है। उन्होंने आगे बताया कि शिकायतकर्ता ने विजीलैंस ब्यूरो के पास पहुँच कर दोष लगाया कि उक्त ए.एस.आई. ने इसी गाँव के रहने वाले उसके दोस्त गुरजोत सिंह और उसकी माता करमजीत कौर, जिनके खि़लाफ़ थाना शेरपुर में एक पुलिस केस दर्ज है, से 20,000 रुपए रिश्वत की माँग की है। शिकायतकर्ता ने आगे दोष लगाया कि उक्त पुलिस मुलाज़ीम उनसे पहले भी इसी केस में अदालत में सप्लीमैंटरी चालान पेश करने के बदले अलग-अलग मौकों पर रिश्वत ले चुका है और अब शिकायतकर्ता से 20,000 रुपए और रिश्वत की माँग कर रहा है।
प्रवक्ता ने बताया कि इस शिकायत की प्राथमिक जांच के उपरांत विजीलैंस ब्यूरो की टीम ने जाल बिछा कर ए.एस.आई. दर्शन सिंह को दो सरकारी गवाहों की मौजूदगी में शिकायतकर्ता से 20,000 रुपए रिश्वत लेते हुये रंगे हाथों काबू लिया। इस सम्बन्धी विजीलैंस ब्यूरो के थाना पटियाला रेंज में भ्रष्टाचार रोकथाम कानून के अंतर्गत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और इस मामले की आगे जांच जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here