अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस भारतीय परंपरा का है ‘बेशकीमती तोहफा’

    0
    18
    Women practicing yoga in a class

    नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस से पहले कहा है कि यह लोगों को नजदीक लाने का एक खास मौका है। प्रधानमंत्री ने ट्विटर पर एक वीडियो संदेश में कहा, “अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस एक खास मौका है जो हमें नजदीक लाता है। यह प्राचीन भारतीय परंपरा का बेशकीमती तोहफा है।”

    प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने जब सितंबर 2014 में संयुक्त राष्ट्र महासभा में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की परिकल्पना रखी थी, तब उन्होंने भी ‘इस दिवस के लिए पूरी दुनिया के सभी हिस्सों से इतने भारी उत्साह की अपेक्षा नहीं की थी।’

    मोदी ने कहा, “पिछले साल एक बार फिर आपके सहयोग और भागीदारी ने पूरी दुनिया को एकसूत्र में बांधने वाले योग की इस प्रचीन विधा को बढ़ावा देने के लिए हमारी प्रतिबद्धता को पुष्ट किया है।” योग शारीरिक व्यायाम से बढ़कर है और यह हमें एक नए आयाम तक पहुंचने के योग्य बनाता है।

    उन्होंने दुनियाभर के लोगों से योग दिवस समारोह का एम्बेसेडर बनने का आग्रह करते हुए कहा, “योग हमें फिर से अपना संतुलन बहाल करने में मदद करता है और हमारे लिए बेहद जरूरी स्पष्टता प्रदान करता है। इसकी एकीकृत करने की शक्ति के माध्यम से हम पूर्णता की तलाश करते हैं।”

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here