गऊरक्षा के नाम पर कानून हाथ में लेने वालो के खिलाफ होगी सख्त कार्यवाही -मुख्यमंत्री बादल

    0
    24

    विधान सभा हलका होशियारपुर में मुख्यमंत्री ने किया संगत दर्शन
    आर.एस.एस नेता पर हुआ हमला अमन कानून की आम समस्या नहीं
    शिरोमणि अकाली दल सही समय पर करेगा उम्मीदवारों की घोष्णा
    लोग राज्य सरकार की ओर से शुरु की गई भलाई स्कीमों से संतुष्ट
    चौहाल नजदीक हुए सडक़ हादसे में मारे गए श्रद्धालुओं के परिजनों को एक्सग्रेशिया ग्रांट दोगुणी करके दो लाख देने की घोष्णा की

    होशियारपुर, 9 अगस्त। गऊरक्षा के नाम पर डेयरी व्यवसाय से जुड़े किसानों को बिना वजह परेशान करने के लिए रोकने संबंधी पंजाब के मुख्यमंत्री स. प्रकाश सिंह बादल ने आज कहा कि गऊ रक्षा की आड़ में कानून को अपने हाथों में लेने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी।
    होशियारपुर विधान सभा हलके में संगत दर्शन प्रौग्राम दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए स. बादल ने कहा कि डेयरी फारमिंग एक सहायत धंधा है जो कि किसानों की आमदन को बढ़ाने में सहायक होता है। उन्होंने कहा कि दुधारु पशुओं को पालने व व्यापार करने जैसी खेती सहायक गतिविधियों को किसी भी कीमत पर ठेस नहीं पहुंचनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हम को सही दस्तावेज अनुसार सही ढंग से पशु पालन का धंधा करना चाहिए।
    एक अन्य सवाल के जवाब में आर.एसएस ब्रिगेडियर (रिटा.) जगदीश गगनेजा पर हुए हमले संबंधी उन्होंने कहा कि यह घटना राज्य में अमन कानून की आम समस्या नहीं है। पुलिस फोर्स की ओर से इस संबंधी बारीकी से जांच की जा रही है तथा हमले के पीछे छिपी ताकतों का जल्द ही पता लगा लिया जाएगा। स. बादल ने कहा कि यह बहुत गहरी साजिश है तथा जांच चल रही होने से अभी तक कोई टिप्पणी करना सही नहीं होगा। एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि सही समय आने शिरोमणि अकाली दल अपने उम्मीदवारों की घोष्णा करेगा । उन्होंने कहा कि चुनावों के दौरान उम्मीदवारों की जल्दी तथा देरी से घोष्णा करना किसी भी राजनीतिक पार्टी के लिए लाभदायक नहीं होता, इस लिए शिरोमणि अकाली दल की ओर से सही समय आने पर अपने उम्मीदवारों की घोष्णा की जाएगी।
    मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि राज्य सरकार ने लोगों की भलाई के लिए कई तरह की भलाई स्कीमों को शुरु किया है। उन्होंने कहा कि वह समय समय पर इन स्कीमों का जायजा लेते रहते है ताकि अधिक से अधिक लोगों तक इन का लाभ पहुंच सकें। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की ओर से शुरु की गई भलाई स्कीमों से राज्य के निवासी बेहद संतुष्ट है। इस से पहले उन्होंने गांव खडक़ां, नारा तथा चौहाल में संगत दर्शन दौरान अपने संबोधन में संगत दर्शन प्रोग्राम की महत्वतता संबंधी बोलते हुए कहा कि उनकी सरकार ने हर बार संगत दर्शन प्रौग्राम को प्राथमिकता दी है। उन्होंने कहा कि किसी भी अन्य राज्य का मुख्यमंत्री संगत दर्शन द्वारा लोगों के घरों तक पहुंच कर उनकी समस्याओं को हल नहीं करता । उन्होंने कहा कि संगत दर्शन प्रौग्राम से लोगों की समस्याओं का हाथो हाथ हल हो जाता है तथा सरकारी अधिकारियों की कार्यगुजारी जांचने का मौका मिल जाता है। पिछले दिनों में माता चिंतपूर्णी रोड़ पर हुए सडक़ हादसे में मारे गए व्यक्तियों पर गहरा दुख जताते हुए स. बादल ने कहा कि इस हादसे में मारे गए श्रद्धालुओं के वारिसों को एक्सग्रेशिया की राशि एक लाख की बजाए दो लाख रुपये दी जाएगी। उन्होंने मृतकों के परिवारों से दुख व्यक्त करते हुए अकाल पुरख के चरणों में अरदास की कि वे बिछड़ी आत्मा को अपने चरणों में स्थान दें ।
    इस मौके पर मुख्यमंत्री पंजाब के राजनीतिक सलाहकार तीक्ष्ण सूद, विधायक सुरिंदर सिंह भुल्लेवाल राठां, मुख्यमंत्री के संयुक्त विशेष प्रमुख सचिव कुमार अमित, डीसी आनंदिता मित्रा, एसएसपी केएस चाहल तथा जिला शहरी प्रधान जतिंदर सिंह लाली बाजवा सहित भारी संख्या में हलका निवासी मौजूद थे।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here