AAP’ में फूट, जरनैल सिंह पर लगे टिकट बेचने के आरोप, कनाडा से उठी कार्रवाई की मांग

    0
    21

    चंडीगढ़: आम आदमी पार्टी (आप) की राष्ट्रीय परिषद के संस्थापक सदस्य पवित्र सिंह तथा प्रवासी भारतीय एवं कनाडा में पार्टी संयोजक हरपाल सिंह ने पंजाब के सह प्रभारी जरनैल सिंह को पार्टी से तत्काल निकाले जाने की मांग की है। पवित्र और हरपाल ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि सिंह ने वालंटियर्स सेे लाखों रूपए बिना रसीद के लिए और संजय सिंह तथा दुर्गेश पाठक उम्मीदवारों से टिकट देने के लिए करोड़ों की मांग कर रहे हैं। यदि पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल का उस पैसेे से कोई लेना देना नहीं है तो जरनैल सिंह, संजय और दुर्गेश पाठक के खिलाफ तत्काल जांच कराकर कार्रवाई करेेंं। सिंह को तो पार्टी से निकाला जाना चाहियेे।

    दिल्ली की टीम के कारण हुई पार्टी दो फाड़
    पवित्र ने कहा कि पार्टी पारदर्शी, भ्रष्टाचारमुक्त प्रशासन देने के नारे के साथ आगे बढ़ी थी और लोगों ने उसमेें आस्था जतायी थी लेकिन दिल्ली की टीम ने पंजाब आकर पार्टी की वो किरकिरी की जिसके कारण पार्टी दो फाड़ हो गयी तथा सुच्चा सिंह छोटेपुर जैसे मेहनती इंसान को जांच से पहले ही फैसला कर संयोजक पद से हटा दिया गया। उन्होंने हैरानी जतायी कि छोटेपुर के खिलाफ कथित तौर पर पैसे लेने के आरोप की जांच के लिये उस व्यक्ति को पैनल का सदस्य बनाया जो पहले ही कार्यकत्र्ताओं से पार्टी फंड के नाम पर पैसे लेता रहा।पहले भी लाख रुपए की ट्रांजेक्शन प्रति की थी सार्वजनिक
    उन्होंने कहा कि जनवरी 2015 में सिंह को की गई एक लाख की ट्रांजेक्शन की प्रति भी पत्रकारों को दी। उन्होंने कहा कि पंजाब तथा प्रवासी भारतीयों से मिले पार्टी को पैसे करोड़ों में हैं जिनका कोई हिसाब किताब नहीं है। इस बारे में केजरीवाल को भी अवगत कराया गया लेकिन कार्रवाई कुछ नहीं हुई। पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक कराये जाने की मांग की लेकिन वो मौका नहीं आया जिसमेें कार्यकत्र्ता अपनी बात रख सकें। उन्होंने कहा कि वह आज भी पार्टी मेें हैं और पार्टी में रहकर भीतर सफाई को लेकर अपनी मुहिम जारी रखेंगे। हम सभी पार्टी के अस्तित्व आने से पहले राजनीति में परिवर्तन तथा भ्रष्टाचार मुक्त और ईमानदार सरकार देने की मुहिम के साथ जुड़े थे और रात दिन खूब मेेहनत की लेकिन जो अब सामने आ रहा है वो दुर्भाग्यपूर्ण है। केजरीवाल को पार्टी की छवि साफ बनाये रखने के लिये पार्टी के भीतर सफाई करने की जरूरत है।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here