Select Page

समाज कल्याण कार्यों में जिला रैड क्रास सोसायटी अपना रही हैं विशेष भूमिका: अपनीत रियात

समाज कल्याण कार्यों में जिला रैड क्रास सोसायटी अपना रही हैं विशेष भूमिका: अपनीत रियात

होशियारपुर, जनगाथा टाइम्स: (सिमरन)

डिप्टी कमिश्नर-कम-अध्यक्ष जिला रैड क्रास सोसायटी अपनीत रियात ने कहा कि जिला रैड क्रास सोसायटी की ओर से समाज कल्याण के लिए किए जा रहे कार्यों की बदौलत जिले में कई ऐसे प्रोजैक्ट शुरु किए गए हैं, जिससे आम लोगों को काफी लाभ पहुंच रहा हैं। उन्होंने कहा कि यह सब होशियारपुर के दानी सज्जनों की बदौलत ही संभव हो पाया हैं। वे आज जिला प्रबंधकी कांप्लेक्स में जिला रैडक्रास सोसायटी के कार्यकारिणी कमेटी सदस्यों की बैठक की अध्यक्षता कर सोसायटी के कार्र्यों की समीक्षा के दौरान संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उनके साथ अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर(सामान्य) विशेष सारंगल, अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर(शहरी विकास) -कम-कमिश्नर नगर निगम आशिका जैन भी मौजूद थे।

डिप्टी कमिश्नर ने जिला रैड क्रास सोसायटी की स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में जरु रतमंद व दिव्यांगजन व्यक्तियों की सहायता के लिए एक फिजियोथैरेपी सैंटर चलाया जा रहा हैं। उन्होंने बताया कि एंबुलेंस वैन सेवा व दो होम्योपैथिक डिस्पेंसरियां भी चलाई जा रही हैं। इसके अलावा प्रसिद्ध समाज सेवी व दानी प्यारे लाल सैनी द्वारा रैड क्रास सोसायटी की ओर से पी.एल. सैनी रैड क्रास फंड फार पुअर पेशेंट आफ किडनी फेलुअर नाम की योजना 2016 से चलाई गई थी और इस योजना के अंतर्गत करीब 78 मरीजों के बहुत ही कम मूल्य पर डायलसिस करवाए जा चुके हैं, जिस पर करीब 46,68,750 रुपए खर्च किए गए हैं। इसी तरह 18 वर्ष से कम आयु के बच्चों के इलाज के लिए 10 हजार रुपए तक की सहायता मुहैया करवाई जाती हैं, जिसमें सोसायटी की ओर से 2 हजार रुपए तक की दवाईयां जरुरतमंद मरीज को मुहैया करवाई जाती हैं।डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि रैड क्रास होशियारपुर की ओर से शिक्षा के क्षेत्र में जरु रतमंद विद्यार्थियों की मदद की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि मैडिकल व इंजीनियरिंग कालेजों के गरीब व मेधावी विद्यार्थियों की पढ़ाई के लिए प्रति सेमेस्टर 50 हजार रु पए या यदि इस फीस के राशी कम हो, तो पूरी फीस की अदायगी के लिए सहायता की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि इसी योजना के अंतर्गत जिले के डिग्री कालेजों के 275 विद्यार्थियों को 5 हजार रुपए प्रति विद्यार्थी सहायता सीधे 10 कालेजों के खातों में मुहैया करने के लिए शामिल किया गया हैं और अभी तक 18 लाख रुपए की सहायता दी जा चुकी हैं। इसी तरह सरकारी स्कूलों के 10वीं, 12वीं मैडिकल व 12वीं नान-मैडिकल स्ट्रीम में पहला स्थान प्राप्त करने वाली तीन लडक़ों व तीन लड़कियों को हर वर्ष स्वतंत्रता दिवस(15 अगस्त) के मौके पर नकद राशी सहित पुरु स्कार भी वितरित किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि रैड क्रास सोसायटी की ओर से सांझी रसोई को भी सुचारु ढंग से चलाया जा रहा है व रोजाना केवल 10 रु पए में पौष्टिक भोजन मुहैया करवाया जा रहा हैं। उन्होंने कहा कि इस योजना के अंतर्गत 3,60,000 लाभार्थियों को भोजन करवाया जा चुका हैं।

अपनीत रियात ने बताया कि रैड क्रास सोसायटी की ओर से एक बाल वाटिका(क्रैच सैंटर) के अलावा 5 वोकेशनल ट्रेनिंग सैंटर(कंप्यूटर, टाइप-शार्ट हैंड, सिलाई-कढ़ाई, फैशन डिजाइनिंग व ब्यूटी पार्लर) भी चलाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक हाल आफ काइंडनेस भी खोला गया हैं, जहां दानी सज्जनों के सहयोग से जरु रतमंदों को कपड़े व अन्य सामान नि:शुल्क मुहैया करवाया जा रहा हैं। इसके अलावा सोसायटी की ओर से बर्तन बैंक भी स्थापित किया गया हैं और शहर वासियों को किसी भी समागम के लिए रिफंडेबल सिक्योरिटी जमा करवाने पर मुहैया करवाए जाते हैं। उन्होंने बताया कि बेसहारा बुजुर्गों को 5 हजार रु पए तक की राशन सामग्री, दवाईयों व कपड़ों आदि की सहायता प्रदान करने के अलावा सरकारी स्कूलों की लड़कियों व कामकाजी महिलाओं के स्वास्थ्य संभाल के लिए 17 सैनेटरी नैपकिन वैंडिंग मशीनें भी स्थापित की गई हैं।

डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि सोसायटी की ओर से शारीरिक तौर पर अक्षम व्यक्तियों व जरुरतमंद महिलाओं को ट्राई साइकिल, व्हील चेयर व सिलाई मशीने भी दी जा रही हैं। उन्होंने बताया कि सोसासटी की ओर से 38 दिव्यांग लाभार्थियों को सोनालिका के सहयोग से मोटोराइज्ड ट्राइसाइकिल भी दी जा चुकी हैं। उन्होंने कहा कि कोविड के दौर में लोगों की मदद के लिए अलग से बैंक अकाउंड सोसायटी की ओर से खोला गया था, जिसमें लोगों के दान के पैसे को जरुरतमंद कोविड मरीज के लिए लगाया गया। उन्होंने कहा कि इस विशेष अभियान के अंर्तगत सोसायटी की ओर से आक्सीजन कंसरटेटर बैंक भी स्थापित किया गया। इस दौरान उन्होंने कार्यकारिणी सदस्यों से जन कल्याण के प्रोजैक्टों संबंधी सुझाव भी मांगे।

डिप्टी कमिश्नर ने इस दौरान जिला रैड क्रास सोसायटी की प्रापर्टीज को सही उद्देश्य के लिए प्रयोग करने संबंधी निर्देश दिए ताकि इससे सोसायटी को आय हो सके। इस दौरान जिला रैड क्रास सोसायटी की नलोइयां चौक की प्रापर्टी को होशियारपुर इंस्टीट्यूट आफ आटोमोटिव एंड ड्राइविंग स्किल(एच.आई.ए.डी.एस) के निर्माण के लिए देने का भी निर्णय लिया गया। अंत में उन्होंने कार्यकारिणी सदस्यों को सोसायटी के लिए अधिक से अधिक दान एकत्र करने की अपील की व दानी सज्जनों को भी आगे आने के लिए कहा। इस मौके पर सचिव जिला रैड क्रास सोसायटी नरेश गुप्ता, राजेश जैन, राजीव बजाज, देशवीर शर्मा भी मौजूद थे।

About The Author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *