Select Page

एसएवी जैन डे बोर्डिंग स्कूल में दो दिवसीय स्पोटर्स कम कल्चरल मीट का आयोजन

एसएवी जैन डे बोर्डिंग स्कूल में दो दिवसीय स्पोटर्स कम कल्चरल मीट का आयोजन

होशियारपुर (रुपिंदर ) एसएवी जैन डे बोर्डिंग स्कूल में आज दो दिवसीय स्पोटर्स कम कल्चरल मीट का आयोजन जैन शिक्षा निधि के प्रधान यशपाल जैन की अध्यक्षता में किया गया। इस स्पोटर्स कम कल्चरल मीट का उद्घाटन अर्जुन अवार्ड से सम्मानित माधुरी जे.सिंह और विशेषातिथि के तौर पर पहुंचे शहर के मेयर शिव सूद ने संयुक्त तौर पर मशाल जला और गुब्बारे छोड़ कर किया । इस अवसर पर बच्चों को संबोधित करते हुए अर्जुन अवार्ड से स मानित माधुरी जे. सिंह ने कहा कि जिंदगी में अकसर खेल के महत्व को हम ध्यान नहीं देते खेल में भाग लेने से सबसे पहले तो हमारे स्वास्थ्य पर उत्तम प्रभाव पड़ता है, भागने से या अन्य किसी खेल खेलने से हमारी सांस लेने की योग्यता 2 से 3 गुना बढ़ जाती है इसके अलावा हमारे शरीर में हमारे रक्त का परिसंचरण भी सुधर जाता है खेलों में भाग लेने से हमारा दिमाग भी ठंडा रहता है, उन्होंने कहा कि अगर हम कभी काम से बहुत थक जाएं या काम के बोझ से छूट न पाए तो फूटबाल की गेंद को लात मारकर हम अपने दिमाग के हर भाग पर फिर से काबू पा सकते हैं। माधुरी जे. सिंह ने कहा कि बच्चों के जीवन में खेल बड़ी उपलब्धियों को प्राप्त करने का रास्ता है हालांकि, ये उनकी गतिशीलता और उस अनुभव पर अधिक निर्भर होता है जो उनके पास पहले से होता है। किसी भी खेल में रुचि, पूरे विश्वभर में पहचान और जीवन भर के लिए उपलब्धी प्रदान कर सकती है। उन्होंने कहा कि खेल की चुनौतियों का सामना करना हमें जीवन की अन्य चुनौतियों से निपटने के साथ ही इस प्रतियोगी संसार में जीवित रहना भी सिखाता है। कुछ खिलाड़ी खेलों में अपने बचपन से ही, कुछ भगवान के उपहार के रुप में जन्म से ही रुचि रखते हैं हालांकि, उनमें से कुछ लोग किसी विशेष खेल में अपनी रुचि बनाते हैं ताकि वो जीवन में धन और प्रसिद्धि प्राप्त कर सकें। मेयर शिव सूद ने बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि आज भी कुछ समाजों में खेल को उतना महत्व नहीं दिया जाता है जितना जरूरी है माता पिता आज भी चाहते हैं कि उनका बेटा या बेटी डाक्टर बने या फिर इंजीनियर लेकिन यदि बच्चों को सही विद्या का ज्ञान दिलाया है तो उसके स्वस्थ होना भी अति आवश्यक है। विभिन्न प्रकार के खेलों की क्रियाएं हमारे लिए बहुत प्रकार के सकारात्मक अवसर लाती है। इसमें बहुत सी समस्याएं भी आती है हालांकि, वे इतना अधिक मायने नहीं रखती। खेल गतिविधियों में भाग लेना बच्चों की स्कूली उपलब्धियों को बढ़ाता है। हम में से कुछ को अपने माता-पिता, अध्यापकों या प्रसिद्ध खिलाड़ी से प्रेरणा प्राप्त करने और प्रोत्साहित होने की आवश्यकता होती है हालांकि, हम में से कुछ को ये प्रेरणा भगवान से उपहार के रुप में प्राप्त होती है। इस अवसर पर स्कूली बच्चों द्वारा एथलीट, ड बल ड्रील, लेजियम और सांस्कृतिक कार्यक्रम भी पेश किये । इस मौके पर दौड़ों और अन्य खेल मुकाबलों में पहला, दूसरा और तीसरा स्थान हासिल करने वाले बच्चों को मु यातिथि माधुरी जे सिंह और मेयर शिव सूद तथा स्कूल शिक्षा निधि के पदाधिकारियों द्वारा पुरस्कृत भी किया गया। अंत में स्कूल शिक्षा निधि के सेक्रेटरी संदीप जैन ने आए हुए सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया और आए हुए गणमाण्य लोगों को आश्वसन दिया कि वह बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए हमेशा प्रयासरत रहेंगे। उन्होंने कहा कि स्कूल के डीन सुनीता दुग्गल, प्रिंसिपल सुषमा बाली और सारा स्टाफ बधाई का पात्र है िजन्होंने इस पूरे प्रोग्राम को बहुत ही अनुशासन और बढ़ीया तरीके से पेश किया , उन्होंने बच्चों का भी हौंसला बढ़ाते हुए कहा कि उन द्वारा पेश की गई हर सांस्कृतिक आइटम और स्पोटर्स एक्टिवी सराहना थी। इस अवसर पर श्री आत्मानंद जैन सभा के प्रधान राकेश जैन, अजित जैन, चितरंजन जैन, सुमित जैन, जैन शिक्षा निधि के वरिष्ठ शिक्षा सलाहकार उमेश जैन, कैशियर बोबी जैन, जैन महिला मंडल, जैन युवा मंडल व अन्य शहर के गणमाण्य लोगों ने भाग लिया ।

About The Author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

No announcement available or all announcement expired.