Select Page

एसएवी जैन डे बोर्डिंग स्कूल में बच्चों को एमआर और रूबेला के टीके लगाए गए

एसएवी जैन डे बोर्डिंग स्कूल में बच्चों को एमआर और रूबेला के टीके लगाए गए

होशियारपुर। भारत के सार्वभौमिक प्रतिरक्षण कार्यक्रम में खसरा-रूबेला के नए टीकों को भी स्वास्थ्य प्रक्रिया में शामिल किया गया है। इस संदर्भ में आज एसएसवी जैन डे बोर्डिंग स्कूल में जिला टीकाकरण अधिकारी डा. जीएस कपूर की अध्यक्षता में स्कूल के सभी बच्चों को एमआर और रूबेला के टीके लगाए गए। इस अवसर पर सिविल डिस्पेंसरी बहादुरपुर की डा. मनोज कुमारी, डा. मनदीप, एएनएम किरण बाला, हरप्रीत, परमजीत, अमनप्रीत, स्टाफ नर्स अमृतजीत, आशा वर्कर रमा, लक्षमी, जमना, मनजीत, रणजीत, सुनीता करिष्मा कुमारी पर आधारित टीम ने स्कूल के बच्चों को टीके लगाए। इस संबंधी जानकारी देते हुए डा. जीएस कपूर ने बताया कि रूबेला को जर्मन खसरा के नाम से भी जाना जाता है, यह बीमारी रूबेला वायरस के कारण होती है। यह संक्रमित व्यक्ति की नाक और ग्रसनी से स्राव की बूंदों से या फिर सीधे रोगी व्यक्ति के संपर्क में आने पर फैसला है।  उन्होंने बताया कि पूरे जिले में अब तक 52 प्रतिशत लगभग 2 लाख 11 हजार बच्चों को टीके अभी तक लग चुके हैं। उन्होंने बताया कि इस अभियान के अच्छे परिणाम आ रहे हैं और कहीं से किसी भी स्कूल ने सहयोग न देने की सामने आई हो और हमें खुशी है कि होशियारपुर के सभी स्कूलों से हमें पूरा सहयोग मिल रहा है। इस अवसर पर जैन शिक्षा निधी के प्रधान यशपाल जैन, सचिव संदीप जैन, कोषाध्यक्ष बोबी ने कहा कि स्कूल प्रबंधक कमेटी का हमेशा यह प्रयास होता है कि वह शिक्षा के साथ साथ बच्चों के स्वास्थ्य का भी पूरा ध्यान रखे। केंद्र और राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही है यह स्कीम बहुत ही सराहनीय है क्योंकि स्वथ्य बच्चों से ही स्वथ्य समाज का निर्माण हो सकता है। अंत में जैन शिक्षा निधी के पदाधिकारियों, डीन सुनीता दुग्गल, प्रिंसिपल सुषमा बाली ने स्वास्थ्य विभाग की आई हुई टीम का आभार व्यक्त किया।

About The Author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

No announcement available or all announcement expired.