सिख गौरवमयी इतिहास को दर्शाते संगीतमयी नाटक ‘परख दी घड़ी’ का सफल मंचन

    0
    10

    सिख गौरवमयी इतिहास को दर्शाते संगीतमयी नाटक ‘परख दी घड़ी’ का सफल मंचन
    – सोहल ग्रुप ऑफ आट्र्स अमृतसर ने किया आयोजन, शहर निवासियों ने की सराहना
    होशियारपुर। सोहल ग्रुप ऑफ आट्र्स अमृतसर की तरफ से होशियारपुर के डी.ए.वी. कालेज ऑफ एजुकेशन में बलदेव सिंह मोगा द्वारा लिखित एवं हरिंदर सोहल द्वारा निर्देशित लाइट एंड साउंड नाटक ‘परख दी घड़ी’ का सफल मंचन किया गया। इस नाटक के माध्यम से 18वीं सदी के गौरवमयी इतिहास की झलक पेश की गई थी। नाटक का उद्घाटन अंतरर्राष्ट्रीय संगीतकार एवं गज़ल गायक गुरदीप सिंह ने किया। इस मौके पर ग्रुप के कलाकारों ने बड़े ही सुन्दर और आकर्षक ढंग से संगीतमयी नाटक पेश करके उपस्थिति को सिख इतिहास की बड़े ही प्रभावशाली तरीके से जानकारी दी। नाटक में बहादुरी और मार्मिक दृश्यों को देखते हुए दर्शक खुद को 18वीं सदी में महसूस कर रहे थे। नाटक के माध्यम से उस समय के मुगल बादशाह फरुख्सियर और उसके जुल्म को कुचलने वाले सिख किरदारों को बाखूबी बयान किया। नाटक में मुगल बादशाह का किरदार हरिंदर सोहल, सिखों का किरदार जसवंत सिंह जस्स, कुलजीत सिंह, जतिंदर सिंह, जसकरन सोहल ने भुजंगी सिख के रुप में, मीनू शर्मा, जकरिया खान के रुप में दिनेश कुमार तथा मनप्रीत सोहल ने अपने-अपने किरदार से इतिहास की झलक पेश की। इस अवसर पर जगदीप हीर ने नाटक के मंचन और इससे जुड़े कलाकारों की विस्तृत जानकारी दी तथा बताया कि ग्रुप द्वारा गौरवमयी सिख इतिहास को दर्शाते इस नाटक का मंचन पंजाब के विभिन्न शहरों में किया जा रहा है। इस मौके पर गुरदीप सिंह व अन्य मेहमानों द्वारा ग्रुप के निर्देशक और कलाकारों को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर गुरदीप सिंह ने कहा कि ग्रुप द्वारा किए गए इस आयोजन के लिए सभी बधाई के पात्र हैं, क्योंकि हमारे गौरवमयी इतिहास की जानकारी हमें और हमारी आने वाली पीढिय़ों को हो इसके लिए इस प्रकार के प्रयास करने बहुत जरुरी हैं। दीप बागपुरी और एडवोकेट रघवीर सिंह टेरकियाना ने भी ग्रुप के प्रयास की सराहना करते हुए इसे थियेटर से जुड़े कलाकार को नया आयाम दिया है। मंच का संचालन करते हुए उर्दू के प्रसिद्ध शायर कशिश होशियारपुरी ने नाटक की गंभीरता और इससे जुड़े कलाकारों के समर्पण भाव को बड़े ही सुन्दर शब्दों में बयान किया। इस अवसर पर गायक हरपाल लाडा, जगदीप हीर, संदीप सैनी, एडवोकेट शक्ति सिंह सैनी, डायरैक्टर विनोद सिद्धू, अनुरोग सूद, लोक मंच कलाकार अशोक पुरी, रजनीश पराशर, मुकेश डावर मिंटू, इकबाल सिंह, हरी सिंह सैनी, एस.डी.ओ. मनजिंदर सिंह, सुखदेव नडालो, सर्वजीत सोनी, बब्बू माहिलपुरी, वरिंदर परहार, कुलविंदर सिंह जंडा, जतिंदर सूद, नरेश बैंस, मनदीप शर्मा, मक्खन सिंह, रजिंदर राणा, मिंटू अमर टैंट वाले, जगदीप खेड़ा, रणजीत सिंह कलेर सिंह अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे।
    फोटो:- 1 व 2
    नाटक का मंचन करते कलाकार।
    3
    ग्रुप के निर्देशक व कलाकारों को सम्मानित करते गुरदीप सिंह व अन्य।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here