शारापोवा का रियो ओलंपिक में खेलने का सपना टूटा

    0
    54
    LOS ANGELES, CA - MARCH 7: Tennis player Maria Sharapova addresses the media regarding a failed drug test at the Australian Open at The LA Hotel Downtown on March 7, 2016 in Los Angeles, California. Sharapova, a five-time major champion, is currently the 7th ranked player on the WTA tour. Sharapova, withdrew from this weekÂs BNP Paribas Open at Indian Wells due to injury. (Photo by Kevork Djansezian/Getty Images)

    जेनेवा पूर्व सर्वोच्च विश्व वरीयता प्राप्त रूसी टेनिस स्टार मारिया शारापोवा का रियो ओलम्पिक-2016 में खेलने का सपना टूट गया है। खेल पंचाट न्यायालय (सीएएस) ने सोमवार को शारापोवा के खिलाफ डोपिंग मामले की सुनवाई 19 सितंबर तक के लिए टाल दी। सीएएस की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी वक्तव्य के अनुसार, “सीएएस में दायर याचिका में शारापोवा ने डोपिंग-रोधी नियमों का उल्लंघन करने के कारण न्यायाधिकरण द्वारा उन पर लगाए गए दो वर्ष के प्रतिबंध को हटाने की मांग की थी।शारापोवा का तर्क है कि उन पर लगा प्रतिबंध या तो हटना चाहिए या उसकी अवधि में कटौती होनी चाहिए।

     मारिया शारापोवा को  रियो ओलंपिक में खेलने की नहीं मिली अनुमति

    सीएएस ने कहा है कि जब भी इस मामले पर अंतिम निर्णय आएगा, सीएएस उसे अपनी वेबसाइट पर सार्वजनिक करेगा। सीएएस के इस फैसले के कारण अब शारापोवा पांच से 21 अगस्त के बीच ब्राजीलियाई शहर रियो डी जनेरियो में होने वाले ओलम्पिक खेलों-2016 में हिस्सा नहीं ले पाएंगी।

    सीएएस के इस आदेश पर रूस टेनिस महासंघ (आरटीएफ) के अध्यक्ष शामिल तारपिश्चेव ने कहा है कि ओलम्पिक में शारापोवा का न होना रूस के लिए बहुत बड़ी क्षति होगी। समाचार एजेंसी तास ने तारपिश्चेव के हवाले से कहा कि शारापोवा की ओलम्पिक में अनुपस्थिति हमारे देश के लिए बहुत बड़ी क्षति होगी। हमें उनसे एकल वर्ग में पदक की उम्मीद थी। ताजा घटना के बाद ओलम्पिक खेलों के लिए चुनी गई शेष रूसी टीम वैसी ही रहेगी।

    मारिया शारापोवा पर इसी साल 26 जनवरी से बैन लगा हुआ है। उन्हें डोप टेस्ट में पॉजिटिव पाया गया था। मेल्डोनियम को इसी साल एक जनवरी से वर्ल्ड ऐंटी डोपिंग एजेंसी (वाडा) की लिस्ट में प्रतिबंधित दवा के तौर पर शामिल किया गया था। शारापोवा ने कहा था कि वह इस दवा को बीते 10 साल से इलाज के लिए यह दवा ले रही थीं। उनका कहना था कि वह दिल संबंधी बीमारी और मैग्निशियम की कमी से निपटने के लिए मेल्डोनियम का सेवन करती रही हैं।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here