रक्षा बंधन बहन भाई के अलावा इंसानियत का भी है पर्व

    0
    21

    -एस.ए.वी. जैन डे बोर्डिंग स्कूल में आयोजित की राखी मेङ्क्षकग प्रतियोगिता
    होशियारपुर, भारत त्यौहार का देश है। हिन्दू समाज के चार प्रमुख त्यौहार यहां बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाए जाते हैं। इन में रक्षा बंधन प्रमुख त्यौहार है। इसकी परम्परा अत्यंत प्राचीन है। प्राय : सभी जाति वर्ग के लोग इसे समान रूप से मनाते हैं। उक्त बात एस.ए.वी. जैन डे बोर्डिंग स्कूल में स्कूल शिक्षा निधी के प्रधान जीवन जैन के दिशा निर्देशन में आयोजित राखी मेङ्क्षकग प्रतियोगिता दौरान सचिव संदीप जैन ने कहे। उन्होंने कहा कि प्राचीन परम्परा के अनुसार ऋषि मुनि यज्ञ करते थे। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा निधी के प्रधान जीवन जैन ने कहा कि रक्षाबंधन सामाजिक, पौराणिक धाॢमक तथा एेतिहासिक भावना के धागे से बना एक एेसा पवित्र बंधन है जिसे जनमानस में रक्षा बंधन के नाम से श्रावन मास की पूर्णिमा को भारत में ही बल्कि नेपाल तथा मारिशय में भी बहुत उल्लास एवं धूमधाम से मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि रक्षाबंधन का त्यौहार केवल भाई बहन का त्यौहार नहीं है अपितु ये इंसानियत का पर्व है, भाईचारे का पर्व है। जहां जातिय और धाॢमक भेदभाव भूलकर हर कोई एक दूसरे की रक्षा कामना हेतु वचन देता है और रक्षा सुत्र में बंध जाता है। इसके बाद स्कूल परिसर में राखी मेङ्क्षकग प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसके परिणाम संबंधी जानकारी देते हुए स्कूल की डीन सुनिता दुग्गल ने बताया कि यह प्रतियोगिता स्कूल के चार हाऊसों के मध्य आयोजित की गई। जिसमें आत्म हाऊस ने 10 अंक, वल्लभ 6, समुद्र 11 व इंद्र हाऊस ने 9 प्राप्त किए। जिसमें समुद्र हाऊस विजयी रहा और आत्म हाऊस रनर अप रहा। अंत में स्कूल ङ्क्षप्रसीपल सुषमा बाली ने प्रतियोगिता में विजेता रहे विद्याॢथयों को पुरस्कृत किया।
    20 एचएसपी
    एस.ए.वी. जैन डे बोर्डिंग स्कूल में आयोजित राखी मेङ्क्षकग प्रतियोगिता में विजेता विद्यार्थी अपने स्कूल स्टाफ के साथ।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here