‘मोदी को खुश करने के लिए आमिर को किस ने धमकाया ?

    0
    8
    Indian actor Aamir Khan arrives for the opening night of the Women in the World summit in New York April 22, 2015. REUTERS/Lucas Jackson - RTX19W4M

     

    रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के ‘देश के ख़िलाफ़ बोलने वाले किसी भी शख्स को सबक सिखाने’ वाले बयान की सोशल मीडिया में जमकर चर्चा हो रही है.

    रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा था,” देश के ख़िलाफ़ बोलने वाले किसी भी शख्स को ‘सबक’ सिखाया जाना चाहिए जैसे कि एक अभिनेता और एक ऑन लाइन ट्रेडिंग कंपनी को ‘सबक’ सिखाया गया था.”

    रक्षा मंत्री के इस बयान के बाद कांग्रेस के नेता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, “मनोहर पर्रिकर का काम पाकिस्तान जैसे बाहरी दुश्मनों से हमारी रक्षा करना है या फिर आमिर ख़ान जैसे देशवासी को धमकाना है?”download

    सुरजेवाला ने एक अन्य ट्वीट में लिखा कि पर्रिकर के बयान से यह साबित होता है कि हर तरह की विरोधी आवाज़ों को दबाने और दलितों और अल्पसंख्यकों को खदेड़ने की साज़िश की जाती है. क्या यह ‘राज धर्म’ हो सकता है?

    पर्रिकर के इस बयान के बाद पिछले साल आमिर ख़ान के असहिष्णुता संबंधित बयान फिर चर्चा में आ गया है.

    हालाँकि पर्रिकर ने आमिर ख़ान का नाम नहीं लिया, लेकिन माना जा रहा है कि उनका निशाना आमिर ख़ान ही थे.

    पर्रिकर ने कहा, “एक अभिनेता ने कहा है कि उनकी पत्नी भारत से बाहर जाना चाहती है. यह दंभपूर्ण बयान है. यदि मैं गरीब हूं और मेरा घर छोटा है तो क्या हुआ…मैं तब भी अपने घर से प्यार करूंगा और हमेशा उसे बंगला बनाने का सपना देखूंगा.”

    @allwomen1voice ट्विटर हैंडल पर लिखा गया है, “जब किसी मंत्री की स्थिति कमज़ोर होती है वे मुसलमानों को धमकाकर अपने नंबर बढ़ाने की कोशिश करते हैं. इसलिए पर्रिकर ने मोदी को खुश करने के लिए आमिर ख़ान को धमकाया है.”

    ‏ट्विटर हैंडल @akil_bakhshi पर लिखा गया है, “आमिर ख़ान को सबक सिखाने की ज़रूरत है, लेकिन सलमान ख़ान को नहीं, क्योंकि असहमति अपराध है, लेकिन हिंसा, हत्या और बलात्कार नहीं.” 

    अभिनेत्री पूजा भट्ट ने ट्वीट किया है, “आमिर ख़ान पर रक्षा मंत्री का बेचैन करने वाला बयान.”

    अकरम नवाज़ ख़ान ने फ़ेसबुक पर लिखा है, “पर्रिकर जी आपको आमिर ख़ान का बयान याद है पर आपको उन 29 लोगों को भूल गए जो एन32 में सवार थे. मान लिया कि उसमें कोई राजनेता या राजनीतिक पार्टियों से संबंध रखने वाला नहीं था, लेकिन वे सभी भारतीय थे.”

    कुछ लोग पर्रिकर के समर्थन में भी आए हैं. अरुण कुमार ने ट्वीट किया, “इसमें गलत क्या है. आमिर ख़ान ने भारत के बारे में जो कहा था, वो गलत था.”

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here