मैनीफैस्टो विवाद से छोटेपुर ने किया खुद को अलग,ये कह कर छुड़ाया पल्ला

    0
    36
    • चंडीगढ़: अाम अादमी पार्टी पर जब भी मुसिबत अाती है तो अकसर देखा गया है कि इसके नेता पल्ला छुड़ाते नजर अाते है। किसी नेता कि गलती सुधारने के बजाए दूसरा नेता ये कह कर पीछे हट जाता है कि मुझे इसका पता ही नहीं था। एेसा ही कह रहे हैं पंजाब कनवीनर सुच्चा सिंह छोटेपुर।

    ‘यूथ मैनीफैस्टो ’ की तुलना धार्मिक ग्रंथों के साथ किए जाने के बाद विवादों में घिरे दिल्ली डायलॉग कमीशन के प्रमुख आशीष खेतान की भूल ने आम आदमी पार्टी को बैक फुट पर धकेल दिया है। पूरे मामले ने आम आदमी पार्टी के यूथ मैनीफैस्टो को खराब करके रख दिया है। दूसरी तरफ पार्टी के पंजाब कनवीनर सुच्चा सिंह छोटेपुर अपने आप को पूरे विवाद से अलग कर रहे हैं। छोटेपुर की दलील है कि रिलीज से पहले मैनीफैस्टो का कवर पेज उन्हें दिखाया तक नहीं गया था।  बातचीत दौरान  उन्होंने कहा कि मैनीफैस्टो की पूरी जिम्मेदारी पार्टी के यूथ विंग की थी।

    पार्टी के यूथ विंग से अनजाने में यह गलती हो गई। पार्टी के पंजाब कनवीनर होने के नाते मैनीफैस्टो संबंधित राय लेने बारे उन्होंने कहा कि यह काम यूथ विंग का था। इस कारण उन्होंने इस मामले में कोई दखलअंदाजी नहीं की और न ही किसी ने उस से राय ली। साथ ही छोटेपुर ने स्पष्ट किया कि रिलीज से कुछ दिन पहले मैनीफैस्टो का खाका उन्हें दिखाया गया था परन्तु जब वह तैयार हो गया तो  कवरपेज नहीं दिखाया। कवर उन्होंने तब देखा जब इसे अमृतसर में पार्टी के राष्ट्रीय कनवीनर अरविन्द केजरीवाल ने रिलीज किया।

    याद रहे कि सुच्चा सिंह छोटेपुर शिरोमणि समिति के लंबे समय तक मैंबर रहे हैं। सिख मर्यादा से वह भलीभांती जानकार हैं। ऐसे में मैनीफैस्टो की तुलना धार्मिक ग्रंथ के साथ करने और कवर पेज पर पार्टी के चुनाव चिन्ह के साथ दरबार साहिब की फोटो लगाने पर उन पर भी सवाल उठ रहे हैं। छोटेपुर के इस बयान के साथ यह भी स्पष्ट हो गया कि मैनीफैस्टो तैयार करते समय उन्हें अलग रखा गया ।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here