भुलत्थ सीट को लेकर हुई बगावत का असर,राणा गुरजीत के खिलाफ मामला दर्ज

    0
    8

    नडालाः पंजाब विधान सभा चुनाव के चलते कांग्रेस के हल्का भुलत्थ से घोषित किए उम्मीदवार गुरविंदर अटवाल के विरोध में हुई मीटिंग में बागी हुए अन्य नेताअों के झग़डे ने नया रंग ले लिया है। कुलविंदर बबल की शिकायत पर कपूरथला पुलिस ने थाना सुभानपुर में मामला दर्ज कर लिया है। इस मामले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और कपूरथला से विधयाक राणा गुरजीत को भी आरोपी बनाया गया है।
    गौरतलब है कि पंजाब विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस पार्टी द्वारा हलका भुलत्थ के लिए घोषित उम्मीदवार पूर्व मंत्री गुरविंद्र सिंह अटवाल का विरोध करने के लिए हलके के कांग्रेसी नेताओं द्वारा बुलाई गई मीटिंग में गत दिवस कांग्रेसी उम्मीदवार व पार्टी के सीनियर उपाध्यक्ष राणा गुरजीत सिंह की उपस्थिति में सरेआम गाली-गलौच हुआ व कुर्सियां तक चलीं थीं जबकि राणा गुरजीत सिंह के गनमैन स्थिति पर कंट्रोल करने के स्थान पर तमाशबीन बने रहे।
    अटवाल को उम्मीदवार घोषित किए जाने के उपरांत गत रात्रि हलके के दावेदारों द्वारा हलके के नेताओं को पार्टी हाईकमान द्वारा अनदेखा किए जाने संबंधी मीटिंग रखी गई थी। हलके के सभी दावेदार व नेता एकजुट थे कि किसी बाहरी उम्मीदवार के स्थान पर हलके के किसी भी नेता को टिकट देनी चाहिए थी लेकिन स्थिति उस समय विस्फोटक हो गई जब गुरविंद्र सिंह अटवाल के समर्थक नेता ने हलके के नेताओं व वर्करों की भावनाओं के विपरीत गुरविंद्र सिंह अटवाल की हिमायत करने की बात कह दी।

    इस दौरान अटवाल के विरोध में नारेबाजी शुरू हो गई। 10-15 मिनट बहसबाजी के बाद यूथ नेता दलजीत सिंह व कुलविन्द्र सिंह बब्बल के मध्य हुई तीखी वार्तालाप से माहौल तनावपूर्ण हो गया व सरेआम गाली-गलौच, धक्का-मुक्की शुरू हो गई तथा कुॢसयां चलनी शुरू हो गईं। कुलविन्द्र सिंह बब्बल की पगड़ी उतर गई, उन्हें बचाकर एक कमरे में भेज दिया गया। इससे पहले राणा गुरजीत सिंह की अध्यक्षता में गांव दमूलियां व नडाला में मीटिंगें की गईं जिसके विरोध में स्थानीय नेताओं व वर्करों द्वारा गुरविंद्र सिंह अटवाल के विरुद्ध प्रदर्शन करते हुए ‘गुरविंद्र सिंह अटवाल गो बैक’ के नारे लगाए गए व उनके पोस्टर जलाए गए।

    गौरतलब है कि हलका भुलत्थ से 8 के करीब नेताओं ने टिकट प्राप्ति के लिए दावा किया था जिनमें अवतार सिंह वालिया, रणजीत सिंह राणा, कुलविन्द्र सिंह बब्बल, प्रीतम सिंह चीमा, मनप्रीत सिंह वालिया, प्रीतम सिंह सीकरी व दलजीत सिंह नडाला आदि शामिल हैं। पार्टी हाईकमान द्वारा 3 नेताओं अवतार सिंह वालिया, कुलविन्द्र सिंह बब्बल व रणजीत सिंह राणा के नामों पर विचार करने के बावजूद दूसरे हलके के नेता गुरविंद्र सिंह अटवाल को हलका भुलत्थ से उम्मीदवार बना दिया गया जिसके बाद हलके के नेताओं ने बाहरी उम्मीदवार का समर्थन न करने संबंधी दी चेतावनी को पूरा करते हुए पूरी तरह विरोध करने का मन बन लिया था।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here