ब्रह्मज्ञान के बिना मुक्ति असंभव : महात्मा गुरदेव सिंह

    0
    27
    होशियारपुर (रुपिंदर ) संत निरंकारी सत्संग भवन ब्रांच प्रीत नगर अज्जोवाल में मुखी महात्मा प्रेेम सिंह जी के नेतृत्व में संत समागम का आयोजन किया गया। इस मौके पर दिल्ली से बने कार्यक्रम के तहत महात्मा गुरदेव सिंह विशेष तौर पर पहुंचे। उन्होंने प्रवचन करते हुए कहा कि इंसान को सतगुरु की शरण में जाकर ब्रह्म ज्ञान लेकर जीवन सफल करना चाहिए। दुनियावी जितने भी रिश्तेदार, साक संबंधी है कोई साथ निभाने वाला नहीं है केवल और केवल सतगुरु ने ही सहायी होना है। उन्होंने कहा कि गुरसिख अपने आप को सतगुरु के चरणों में समर्पित करके जीवन को सफल बनाता है। उन्होंने कहा कि ब्रह्मज्ञान के बिना मुक्ति असंभ है। ब्रह्मज्ञान मुक्ति का स्त्रोत है। अंत में मुखी महात्मा प्रेम सिंह जी ने दुपट्टा पहना कर उनका स्वागत व धन्यवाद किया। इस अवसर पर मुखी प्रेम सिंह, संचालक बलविंदर कुमार, बलवीर सिंह, रामपाल व जरनैल सिंह सहित भारी संख््या में संगत उपस्थित थी।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here