प्रेम ही है भगवान को पाने का सरल माध्यम: जगमोहन दत्त

    0
    10

    JANGATAHहोशियारपुर ()। श्री गोबिंद गोधाम गौशाला धोबीघाट-आदमवाल रोड में श्रीमद्भागवत कथा ज्ञान यज्ञ में कथा करते जगमोहन दत्त शा ी जी ने प्रेम का महात्म समझाया। कथा को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने बताया कि जब भगवान कृष्ण बांसुरी बजाते थे तो किस प्रकार मानव जाति की नहीं बल्कि पशु-पक्षी एवं प्रकृति ही उनके आधीन हो जाती थी। उनके प्रेम में सभी सब कुछ भूल जाते थे। उन्होंने कहा कि भगवान प्रेम के भूखे होते हैं और जो इस प्रेम को जान जाता है, वो भगवान को पा जाता है। इस दौरान उन्होंने भजनों को माध्यम से उपस्थिति को मंत्रमुग्ध कर दिया। इस अवसर पर प्रधान कुलदीप सैनी, दिलीप बिल्ला, रएडवोकेट राकेश मरवाहा, हरीश शर्मा, राजेश मलकोटिया, महिंदरपाल, भोल कुमार, गुलशन नंदा, बी.के. भारद्वाज, अरविंद शर्मा, सुभाष भल्ला, सोनू कपूर, परवीन मनकोटिया, सुरिंदर अरोड़ा, हरीश शर्मा काला, सोनू वालिया, राम यादव, विनोद धीमान सहित बड़ी सं या में श्रद्धालु मौजूद थे।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here