प्राइवेट सेक्टर की गर्भवती महिलाओं के लिए खुशखबरी

    0
    14

    नई दिल्ली। भारत में रहने वाली उन सभी महिलाओं के लिए जो गर्भवती है, या जो भविष्य में मां बनने की तैयारी कर रही है। उन सभी के लिए एक बड़ी खबर है। अभी तक केवल पब्लिक सेक्टर में काम करने वाली महिलाओं को ही मैटरनिटी लीव देने का प्रावधान था। लेकिन अब प्राइवेट और पब्लिक सेक्टर में काम करने वाली महिलाओं को जल्द 12 की जगह 26 हफ्ते की मैटरनिटी लीव मिल सकती है। इतना हीं नहीं उनके पेशे के मुताबिक महिलाएं 26 हफ्ते के बाद भी घर से भी काम कर पाएंगी।

    मैटरनिटी लीव

    मैटरनिटी लीव एक्ट में संसोधन

    श्रम मंत्रालय ने मैटरनिटी बेनिफिट एक्ट 1961 में संसोधन करते हुए कैबिनेट नोट तैयार किया है। हालांकि गौर करने वाली बात ये है कि यह सुविधा उन महिलाओं को नहीं मिलेगी जिनके 2 या इससे ज्यादा बच्चे हैं।

    गौरतलब है कि सरकारी कर्मचारियों के लिए 26 सप्ताह या छह महीने के मैटरनिटी लीव का प्रावधान पहले ही है। वहीं निजी क्षेत्र की कंपनियां अधिकतम तीन महीने के अवकाश की पेशकश करती हैं। जबकि बहुत से छोटे संस्थानों में ये लाभ भी नहीं दिए जाते हैं।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here