पावरकॉम की कार्यप्रणाली पर एडवोकेट जैरथ की चेतावनी

    0
    84

    मालरोड स्थित ऑफिस में परेशान जनता ने जैरथ के सामने लगाई गुहार
    होशियारपुर । जगदीप बजरा
    पंजाब सरकार के अधीन पंजाब स्टेट पावर कार्पोरेशन लिमिटेड से जिस प्रकार से आम जनता तंग है, उसे शब्दों में सीमित करना बहुत मुश्किल है। किसी नागरिक के बिल बढक़र आ रहे हैं और किसी को बेवजह बिजली काटने का नोटिस भेजा जा रहा है। कई बिलों में कई फुटकल खर्चे लगाए जाते हैं। यहां तक कि लोग बिल जमा करवाने के लिए कई कई दिन परेशान हो रहे हैं क्योंकि बिल जमां करवाने वाले कम्पयूटर का या तो सर्वर अक्सर डाऊन रहता है। यही नहीं, बिल जमां करवाने की मशीनें भी अक्सर खराब ही रहती हैं। यह समस्याएं आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय परिषद के सदस्य एडवोकेट नवीन जैरथ ने लोगों के साथ स्थानीय माल रोड स्थित पावरकाम के दफ्तर में एस.डी.ओ. अशीष कुमार से मुलाकात के दौरान कहीं। एडवोकेट जैरथ ने बताया कि उन्हें आज कई लोगों के फोन आए कि पावरकाम के इस दफ्तर में वह भारी परेशानियों का सामना कर रहे हैं और उनकी कोई अधिकारी सुनवाई नहीं कर रहा है। जैरथ ने जब माल रोड स्थित पावरकाम के इस दफ्तर में दस्तक दी तो वहां खड़े एडवोकेट जसवीर सिंह जसवाल ने उन्हें बताया कि उनका बिजली का पिछला बिल नैगेटिव में आया था व उनके खाते से पावरकाम के खाते में 218 रु पए अतिरिक्त जमां दिखाए गए। लेकिन इस बार जो बिल उन्हें भेजा गया, उसमें लिखा गया कि साल 2015 से उनकी तरफ लगभग 1300 रु पए बकाया हैं व जमां न करवाने की सूरत में उनकी बिजली काट दी जाएगी। वहीं खड़े केवल कृष्ण चावला ने उन्हें बताया कि वे पिछले 4 दिनों से अपना बिजली का बिल जमां करवाने के लिए इस दफतर में आ रहे हैं लेकिन उन्हें यही कहकर लौटाया जा रहा है कि सर्वर डाऊन है। वहीं खड़ी महिलाओं प्रियंका व पूनम ने जैरथ को बताया कि उनकी बिल जमा करवाने की आज आखरी तारीख है लेकिन उनका बिल भी सर्वर डाऊन होने के चलते जमां नहीं करवाया जा रहा है। जैरथ ने हालांकि कई लोगों की समस्याओं का एस.डी.ओ. अशीष कुमार से मौके पर ही निपटारा करवा दिया लेकिन उन्हें हैरानी तब हुई जब आशीष कुमार ने खुद माना कि बिल संबंधी ठेके जिन लोगों को दिए गए हैं, उनकी कार्यप्रणाली बिलकुल भी ठीक नहीं है जिसके कारण न केवल आम जनता बल्कि विभाग भी बहुत परेशान है। नवीन जैरथ ने कहा कि इस सब के चलते आम जनता को किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं आनी चाहिए लेकिन यदि फिर भी पंजाब सरकार ने इस ओर कोई ध्यान न दिया तो वह आगामी दिनों में आम जनता संग मिल पावरकाम के खिलाफ एक बडा आंदोलन खड़ा करेंगे।
    फोटो-माल रोड स्थित पावरकाम के दफ्तर में जनता की शिकायतें सुनते ‘आप’ की राष्ट्रीय परिषद के सदस्य एडवोकेट नवीन जैरथ।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here