पंजाब में पहले प्रदूषण रहित ईट बनाने वाले भट्ठे का उद्घाटन

    0
    16
    मानसा ।मानसा के गांव वणावाला में ईंट तैयार करने वाला प्रदूषण मुक्त प्लांट शुरू हो गया है। प्रोजेक्ट का उद्घाटन राज्यसभा मेंबर बलविंदर सिंह भूंदड़ ने किया। फ्लाई एेश ब्रिक मेन्युफेक्चरिंग एंड स्किल डवलपमेंट सेंटर नाम से बना प्लांट पंजाब भर में पहला प्रोजेक्ट है, जहां बगैर प्रदूषण के ईंट तैयार की जाएगी।
    मनरेगा के जिला कोआर्डिनेटर मनदीप सिंह ने बताया, दिल्ली में दो फरवरी को मानसा जिले की ग्राम पंचायत को सम्मानित किया गया था। वहीं पश्चिम बंगाल से आए अधिकारी ने मनरेगा में होने वाले कामों की प्रदर्शनी दिखाई थी। यहीं से उन्होंने प्रदूषण मुक्त प्लांट से ईंट बनाने की जानकारी ली और मानसा के गांव वणावाला में तलवंडी साबो पावर प्लांट के सहयोग से ये प्रोजेक्ट शुरू किया गया।

    राख, चूरा रेता, चूना व जिप्सम के मिक्सचर से बनेंगी ईंटें

    मनदीप िसंह ने बताया, नए प्रोजेक्ट के तहत ईंट बनाने में प्रदूषण नहीं होता क्योंकि इसमें काेयला या फिर किसी अन्य ज्वलनशील पदार्थ का प्रयोग नहीं किया जाता। ईंट बनाने के लिए थर्मल से निकलने वाली 40 फीसदी राख, 30 फीसदी चूरा रेता, 25 फीसदी चूना, 5 फीसदी जिप्सम को मिलाकर मिक्सचर बनाया जाता है जिसको बाद में मशीन में डाला जाता है। यह मशीन एक बार में दो ईंट तैयार करती है, गांव में चार मशीनें लगाई गईं हैं। एक दिन में एक मशीन 400 ईंट तैयार करेगी ओर यह ईंटें मनरेगा के तहत चल रहे कामों में प्रयोग होंगी। मशीन की कीमत 80 हजार रुपए है जो तलवंडी साबो पावर प्लांट द्वारा मुहैया करवाई गई है।

    भट्‌ठों पर कोयला, लकड़ी यूज होती है, जिससे फैलता है प्रदूषण

    फिलहाल ईंट भट्ठे पर तैयार होने वाली ईंट के लिए कोयला या फिर लकड़ी आदि का प्रयोग किया जा रहा है जिससे प्रदूषण होता है लेकिन यह प्रोजेक्ट बिना प्रदूषण के चलने वाला है। इससे बनने वाली ईट की मजबूती भी एक नंबर जैसी ईंट की तरह होगी तथा दोनों ओर से इसके कोने साफ होंगे। यह ईंट पानी भी कम सोखती है।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here