पंजाब में चुनावी वादे से पलटी कांग्रेस, 5 रुपये में नहीं मिलेगा खाना

    0
    12

    JANGATHA TIMES : 5 रुपये में गरीबों को खाना, ये कांग्रेस का जनता से किया वो वायदा है जिसे विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान करके कांग्रेस पंजाब की सत्ता पर काबिज होने में कामयाब रही है. लेकिन सत्ता में आने के 1 महीने के अंदर ही पंजाब कांग्रेस के नेताओं के सुर बदल गए हैं और अपने ही 5 रुपये में खाना देने के वादे से कांग्रेस पलट गई है.
    कांग्रेस के नेताओं का कहना है कि 5 रुपये में अच्छा खाना गरीबों को देना व्यवहारिक नहीं है और सरकार सस्ते खाने का अपना वादा पूरा करेगी लेकिन खाने की थाली 5 रुपये में नहीं बल्कि 13 रुपये में नो प्रॉफिट नॉ लोस के आधार पर तैयार की जाएगी.

    अब सवाल यह है कि क्या कांग्रेस को अपने मेनिफेस्टो बनाते हुए इस बात का अंदाजा नहीं था कि 5 रूपये में गरीबों को खाने की थाली देना मुमकिन नहीं है और अब यह 5 रुपये का भाव बढ़कर 13 रुपये तक पहुंच गया है हालांकि कांग्रेस की पंजाब सरकार के नेताओं की दलील है कि सरकार अपना वादा पूरा करेगी लेकिन उसके साथ ये भी सुनिश्चित किया जाएगा की गरीबों को अच्छा और बेहतर खाना मिले इसलिए इस खाने का दाम पांच रुपए नहीं बल्कि 13 रुपये तक होगा और सरकार बिना किसी मुनाफे के ये खाना गरीबों तक पहुंचाएगी.

    अकाली दल के मीडिया एडवाइजर जंगवीर सिंह का कहना है कि कांग्रेस ने पंजाब की जनता से ऐसे वायदे किए हैं जो पूरे किए ही नहीं जा सकते. वो कहते हैं, ‘5 रुपये में गरीबों को खाना देने का वादा उन लंबे और लोक-लुभावने चुनावी वादों की फेहरिस्त में से एक वादा है जो कि पंजाब की सत्ता में आने से पहले विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस ने जनता से किए थे. लेकिन अब जिस तरह से एक के बाद एक इन वादों को पूरा करने से कांग्रेस पीछे हट रही है और जनता से अभी और वक्त देने का बात कर रही है तो ऐसे में सरकार की मंशा पर सवाल उठने लाजमी हैं.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here