पंजाब में करोडो़ं का घोटाला,कांग्रेस ने लगाए अारोप

    0
    22

    चंडीगढ़ः क्या करोड़ों रुपए का अनाज मोटरसाइकिलों पर ढोया जा सकता है? यह संभव नहीं है परन्तु पंजाब के खुराक और सप्लाई विभाग ने ऐसा कर दिखाया है। कैग ने पिछले साल उन मोटरसाइकिलों के नंबर भी जारी किए थे, जिन्होंने ऐसा किया परन्तु इन मोटरसाइकिलों को कांग्रेस ने ढूंढ लिया है। जाखड़ ने इस मौके पत्रकारों को बताया कि उन्होंने ऐसे 15 मोटरसाइकिल ढूंढ लिए हैं जिनके नंबर ट्रकों के दिखाए गए हैं। इन पर अनाज गोदामों तक पहुंचाने की बात कही गई थी। उनमें से एक मोटरसाइकिल पर सुनील जाखड़, चरनजीत सिंह चन्नी को साथ बिठा कर विधानसभा पहुंचे। यह प्रदर्शन उन्होंने पिछले समय में सामने आए बहुकरोड़ी अनाज घोटाले को ले कर किया।

    जाखड़ ने कहा कि यह एक मोटरसाइकिल तो उन्होंने खरीद ही लिया है, जिसे पूरे सूबो में घुमा कर सरकार के फर्जीवाड़े की जानकारी लोगों को दी जाएगी। उन्होंने कहा कि चुनाव के बाद यह मोटरसाईकल तोहफे के तौर पर सुखबीर बादल को भेंट कर दिया जाएगा।जाखड़ ने मांग की कि इस घोटाले की सी. बी. आई. जांच करवाई जाए। उन्होंने कहा कि इस घोटाले कारण ही केंद्र पंजाब को फसलों की खरीद के लिए राशि जारी नहीं करता और वह सूबे से पूरा हिसाब किताब मांग रहा है।

    27 हज़ार करोड़ का हुआ घोटाला: जाखड़

    जाखड़ ने कहा कि यह घोटाला कोई छोटा -मोटा नहीं है बल्कि पंजाब के गोदामों में से 27,000 करोड़ रुपए का अनाज गायब हुआ है। यह हमारा दोष नहीं है बल्कि कैग का है। उन्होंने कहा कि यदि मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल सच्चे हैं तो इस की केंद्रीय जांच ब्यूरो (सी. बी. आई.) से जांच करवाएं। जाखड़ ने यह मुद्दा उठाते हुए कहा कि इस घोटाले कारण पिछले साल केंद्र सरकार कैश क्रैडिट लिमट बढ़ाने में न  कर रही है और एक बार फिर धान की फसल तैयार खड़ी है, जबकि अभी तक 20 हज़ार करोड़ रुपए की कैश क्रेडिट लिमट नहीं बनी है। उन्होंने कहा कि सरकार की इस लापरवाही का नुक्सान किसानों को भुगतना पड़ेगा।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here