नाभा जेल से भागा आंतकी मिंटू दिल्ली पुलिस ने किया दिल्ली -हरियाणा बॉर्डर पर पकड़ा

    0
    8

    .रविवार सुबह 8:30 बजे 10 बदमाशों ने नाभा की मैक्सिमम सिक्योरिटी जेल पर हमला कर 2 खालिस्तानी आतंकियों और 4 गैंगस्टर्स को छुड़ा लिया था। इनमें से नाभा जेल ब्रेक का मास्टरमाइंड परमिंदर सिंह यूपी के शामली से गिरफ्तार कर लिया गया और खूंखार आतंकी हरमिंदर सिंह मिंटू को दिल्ली पुलिस ने दिल्ली -हरियाणा बार्डर से गिरफ्तार किया है। केएलएफ-चीफ है हरमिंद्र मिंटू…

     -हरमिंदर मिंटू ने अपनी दाढ़ी कटा ली थी, जिसके बाद उसे पहचानना बहुत ही मुश्किल था।
    – दिल्ली पुलिस के मुताबिक, उसका प्लान मुंबई से होते हुए गोवा भागने का था।
    -आतंकी हरमिंदर सिंह मिंटू को दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट लाया गया।
    -हरमिंदर ने दाढ़ी कटाकर अपना भेष बदल लिया था।
    -पंजाब की नाभा जेल से भागा खालिस्तानी आतंकी हरमंदिर सिंह की दिल्ली के निजामुद्दीन रेलवे पार्किंग से गिरफ्तारी हुई थी।
      खतरनाक आतंकी है हरमिंद्र मिंटू, डेरामुखी को चाहता मारना…
     -हरमिंदर सिंह मिंटू खालिस्तान लिब्रेशन फ्रंट का चीफ है। दो साल पहले पंजाब पुलिस ने उसे मलेशिया से गिरफ्तार किया था।
    -पुलिस ने दावा किया था कि पाकिस्तान के जरिए किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के इरादे से आ रहा था।
    -उस पर 2008 में सिरसा के डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर हमला करने का आरोप भी है।
    -साथ ही 2010 में हवारा एयरफोर्स स्टेशन से एक्सप्लोसिव लूटने का भी मामला दर्ज है।
    – हरमिंदर पर 10 केस दर्ज हैं। यह स्लीपर सेल तैयार करता है।
     नकली पासपोर्ट पर सफर करते समय पकड़ाया था …
     -2014 में जब उसे दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया तब वह मलेशिया के नकली पासपोर्ट पर सफर कर रहा था।
    -पासपोर्ट में उसका नाम गुरदीप सिंह था। मिंटू के बारे में बताया जाता है कि यूरोप के अलावा उसने दक्षिण पूर्व एशिया के देश, कंबोडिया, लाओस, म्यांमार और थाइलैंड में उसने संगठन का जाल फैला रखा है।
    – पहले वह थाइलैंड से अपने ऑपरेशन को अंजाम देता था।
     आईएसआई से ट्रेनिंग ले चुका है मिंटू…
     -बब्बर खालसा से अलग होने के बाद मिंटू पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई से ट्रेनिंग ले चुका है।
    -सुरक्षा एजेंसियों का कहना है कि उसके संगठन को आईएसआई से फंड भी मिलता रहा है।
    -वह कई बार पाकिस्तान जा चुका है। आईएसआई के पैसों पर ही हरमिंदर 2010 और 2013 में यूरोप गया।
    -वहां इटली, बेल्जियम, जर्मनी, फ्रांस और दूसरे देशों में उसने वैसे लोगों से संपर्क साधा जो भारत में आतंकी गतिविधियों के लिए सहयोग दे सकते थे।
    – 2013 में वह पहले पाकिस्तान गया था और उसके बाद यूरोप गया।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here