नाबालिग दलित छात्रा के दुष्कर्मी को 7 साल की जेल

    0
    10

     होशियारपुर : एडीशनल सैशन जज पूनम आर. जोशी की अदालत ने एक नाबालिग दलित छात्रा के साथ दुष्कर्म किए जाने के मामले में गांव घुमियाला निवासी एक युवक कर्ण उर्फ घोनी पुत्र हरमेश लाल को धारा 376 के तहत 7 साल की कैद व 1.05 लाख रुपए जुर्माने की सजा के आदेश दिए हैं। जुर्माना न दिए जाने पर 1 साल और जेल काटनी होगी। जुर्माना राशि में से 1 लाख रुपए पीड़ित लड़की को दिए जाने हैं।

    क्या है मामला : 14 वर्षीय पीड़ित लड़की, जोकि 9वीं कक्षा की छात्रा है, ने पुलिस को दिए बयानों में बताया कि 5 दिसम्बर 2014 को सुबह 5.30 बजे जब वह गुरुद्वारा जाने के लिए घर से निकली तो रास्ते में दोषी ने उसे जबरन पकड़ लिया तथा मेरा मुंह ढांप कर घने जंगल में ले गया। यहां दोषी ने जबरन मेरे साथ दुष्कर्म किया तथा जबरदस्ती वहीं रखे रखा।

    अगले दिन 6 दिसम्बर को सायं 5 बजे के करीब जब दोषी शौच के लिए गया तो मौका पाकर मैं वहां से भाग कर किसी तरह घर पहुंची तथा सारी व्यथा अपनी मां को सुनाई। लड़की के बयानों पर थाना चब्बेवाल पुलिस ने एफ.आई.आर. नंबर 138 के तहत दोषी के खिलाफ मामला दर्ज कर बाद में उसे गिरफ्तार कर लिया। लड़की की मैडीकल जांच में भी दुष्कर्म की पुष्टि हुई थी। मामले में दोषी करार दिए जाने पर माननीय अदालत ने
    आज यह सजा सुनाई।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here