धरती के नीचे पानी में यूरेनियम होने से फैल रही हैं किडनी व कैंसर की बीमारी

    0
    11

    JANGATHA TIMES : मुकेरिया : मुकेरियां शहर व आसपास के क्षेत्र में जहां कैंसर की बीमारी अपने पैर पसार रही है, वहीं किडनी व शूगर के मरीजों की गिनती भी लगातार बढ़ रही है। पूर्व सरपंच जगजीत सिंह, डा. करतार सिंह, बलवीर सिंह फार्मासिस्ट, हरीश बत्तरा, इंद्रजीत बत्तरा, चौधरी स्वर्ण दास नम्बरदार, मनजीत सिंह खानपुर ने बताया कि क्षेत्र में 100 से अधिक किडनी के मरीज हैं जिनको डायलिसिज करवाने हेतु जालन्धर या अन्य अस्पतालों में जाना पड़ता है। जबकि दसूहा के सिविल अस्पताल में सिर्फ 2 डायलिसिज मशीनें हैं। उन्होंने कहा कि सिविल अस्पताल मुकेरियां में सरकार कम से कम 4 डायलिसिज मशीनों का प्रबंध करे।
    उन्होंने बताया कि अगर डायलिसिज मशीनें सिविल अस्पताल में स्थापित कर दी जाती हैं तो किडनी के मरीजों को निकट से डायलिसिज करवाने का लाभ मिलेगा और इन मरीजों की हजारों रुपए की बचत होगी।
    क्या कहते हैं विधायक
    विधायक रजनीश कुमार बब्बी से जब बातचीत की गई तो उन्होंने बताया कि शहर व क्षेत्र का एक वफद उनको इस समस्या संबंधी मिला था। उन्होंने सेहतमंत्री पंजाब से इस संबंधी बातचीत की है। मरीजों की हालात को देखते हुए मुकेरियां सिविल अस्पताल में डायलिसिज मशीन का होना बहुत जरूरी है। इस कार्य हेतु वह पूरी तरह प्रयासरत हैं।
    प्रदूषित पानी है कैंसर व किडनी की बीमारी का मुख्य कारण
    इस संबंधी जानकारी अनुसार डब्ल्यू.एच.ओ. विश्व सेहत संगठन द्वारा जो आंकड़े जारी किए गए हैं। उसके अनुसार जिला होशियारपुर की धरती के नीचे पानी में यूरेनियम की मात्रा मिली है जिसका आंकड़ा 40 से 50 फीसदी तक लिया गया है। यह एक बहुत ही गम्भीर मामला है जिस कारण क्षेत्र में मरीजों की गिनती बढ़ रही है। यह भी पता चला है कि जमीन के नीचे 100 फुट पर ही पानी में यूरेनियम का असर पाया जा रहा है।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here