चिंतपूर्णी बस हादसे के घायलों व मृतकों के परिवारों से बादल का ना मिलना निंदनीय- एडवोकेट जैरथ

    0
    13

    आम आदमी पार्टी पीडि़त परिवारों को देगी मुफ्त कानूनी सहायता
    होशियारपुर , पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, अकाली व भाजपा की समूची लीडरशिप पिछले 2 दिन से प्रशासन के साथ मिल संगत दर्शन के नाम पर ड्रामा चला रही है, पर बडे दुख की बात है कि मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल को इन दो दिनों में चिंतपूर्णी बस हादसे में घायलों व मृतकों के परिवारों को मिलने का समय नहीं मिला। यह शब्द आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय परिषद के सदस्य एडवोकेट नवीन जैरथ ने ‘आप’ के प्रदेश कनवीनर स. सुच्चा सिंह छोटेपुर, होशियारपुर पार्टी के सक्रि य सदस्यों खरैती लाल कतना, संदीप सैनी, वरिंदर परिहार, डा. रवजोत, डा. नरेश सग्गड, हरपाल लाडा, सतवंत सयान, अजैब सिंह, बलविंदर कतना, दलजीत कुमार, नवप्रीत सिंह, डा. कुलवंत सिंह, राजेश सैनी व अन्य ने हादसे में घायल व मृतकों के पीडि़त परिवारों से मुलाकात के बाद कहे। जैरथ ने जिला प्रशासन द्वारा किए गए चिंतपूर्णी मेले के खराब प्रबंधों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि बड़ी शर्म की बात है कि हर वर्ष चलने वाले इस बड़े मेले में प्रशासन द्वारा मेले के रास्ते में पहले से एक भी एंबुलैंस का प्रबंध नहीं किया हुआ था जिसके चलते इस हादसे में घायल व मृतक लगभग 2 घंटे तक घटना स्थल पर फंसे रहे। उन्होंने कहा कि जब मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल जे.सी.टी. मिल चौहाल में लंच करने जाते हैं तो ट्रैफिक रोक कर प्रशासन द्वारा उन्हें तो लगभग 15 मिनट में चौहाल पहुंचाया जाता है वहीं दूसरी तरफ घायलों व मृतकों की लाशें लाने के लिए लगभग 2 घंटे लग जाते हैं। यही नहीं मुख्यमंत्री के पास चौहाल में लंच करने का तो समय है पर चौहाल में ही दो मृतकों के पीडि़त परिवारों से मिलने का समय नहीं है।
    पीडि़त परिवारों से मुलाकात कर ‘आप’ के प्रदेश कनवीनर स. सुच्चा सिंह छोटेपुर, एडवोकेट जैरथ व अन्य ने जहां उन्हें सांत्वना दी वहीं उन्होंने उन्हें भरोसा दिलाया कि कानूनी रू प से कोर्ट द्वारा क्लेम लेने के लिए आम आदमी पार्टी इन सभी परिवारों को मुफ्त कानूनी सहायता प्रदान करेगी।
    फोटो-पीडि़त परिवारों से मुलाकात करते हुए ‘आप’ के पंजाब कनवीनर स. सुच्चा सिंह छोटेपुर, राष्ट्रीय परिषद के सदस्य एडवोकेट नवीन जैरथ व अन्य।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here