कैप्टन अमरेंद्र राणा गुरजीत को बचाने की कोशिश कर रहे हैं -सचदेवा

    0
    15

    JANGATHA/ होशियारपुर : आम आदमी पार्टी होशियारपुर के नेता परमजीत सिंह सचदेवा ने सिंचाई व बिजली मंत्री राणा गुरजीत सिंह के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। परमजीत सिंह सचदेवा ने कहा कि कैप्टन अमरेंद्र  सिंह भी राणा गुरजीत को बचाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा पंजाब की पिछली अकाली भाजपा और कांग्रेस सरकार में कोई फर्क नहीं हैं। पहले अकाली नेताओं माईनिंग पर जोर दिया था अब कांग्रेसी उसी रास्ते पर चल पड़े हैं। जिसका ताजा उदाहरण राणा गुरजीत के तौर पर सबके सामने हैं। उन्होंने कहा कि राणा का पासपोर्ट जब्त होना चाहिए।  उन्होंने कहा कि राणा के रसोइया के पास इतनी इनकम कहां से आई क्योंकि एक 12 हजार वेतन लेने वाला और साल की 90 हजार रिर्टन भरने वाला व्यक्ति करोड़ों रूपये कहां से खर्च कर सकता हैं, इसकी जांच होना जरूरी हैं। सचदेवा ने कहा कि मामले में कैप्टन सरकार जिस्टस नारंग आयोग के माध्यम से जांच के नाम पर भद्दा मजाक कर रही है। उन्होंने कहा कि राणा पंजाब के उभरते हुए विजय माल्या हैं। इसलिए रेता बजरी के ठेकों में हुए घालमेल की हाईकोर्ट के मौजूदा जज से जांच करवाने के साथ-साथ दोबारा ठेके करवाए जाएं। उन्होंने कहा कि कैप्टन सरकार द्वारा जो कमिशन जांच के लिए तैयार किया है उसे ये जानने का हक नहीं कि रसोईयां का सोर्स आफ इनकम क्या थी, उन्होंने कहा कि अगर जांच में कमिशन ये नहीं पूछ सकता कि  ये पैसा कहां से आया और साढ़े 13 करोड़ रूपये कहां से आए, न ही एकाऊंट की जांच करने अनुमति दी गई है तो जांच का कोई लाभ नहीं।  जिससे साफ है कि कांग्रेस सरकार राणा गुरजीत को बचाना चाहती हैं और एेसी जांच का कोई फायदा नहीं हैं और ये जांच लोगों की आंखों में धूल झौंकने वाली हैं। उन्होंने कहा कि रेत खनन की नीलामी में 17 खड्डों के ठेके रिजर्व प्राइज पर एक बोली में दे दिए गए हैं। यह कैसे संभव है कि एक ही बार बोली के बाद ठेका दे दिया जाए। नियमानुसार कम से कम तीन बोलियां जरूर लगनी चाहिए थी। 20 फीसदी नीलामी सिंगल बोली पर करवा दी गई, एेसे में पूरी नीलामी प्रक्रि या पर ही सवाल लग गया है।  इस अवसर पर कुलभूषण, भजन सिंह, जसविंदर सिंह, अमित नेगी, गुरप्रीत सैनी, स्संदीप, राजवीर बल, मनीष ठाकुर, गुरमेल सिंह, जसदीप सिंह भी मौजूद थे।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here