कैप्टन अमरिंदर अपने परिवार के स्विस बैंक खातों का खुलासा करें- जैरथ

    0
    12

    कैप्टन अमरिंदर अपने परिवार के स्विस बैंक खातों का खुलासा करें- जैरथ
    होशियारपुर , राजू नंदा
    इस समय महंगाई अपनी चर्म सीमा पर है। जहां पैटरोल डीजल के दाम बढ़े हुए हैं, वहीं रोजमर्रा इस्तेमाल होने वाली चीजों जैसे दालों व सब्जियों के भाव भी आसमान छू रहे हैं। ऐसे में महंगाई के चलते आम आदमी का जीना मुश्किल हो रहा है तथा वह आर्थिक रूप से भी कमजोर हो रहा है। पर बड़ी हैरानी की बात है कि नेता व उनके खास चहेते दिनोदिन अमीर हो रहे हैं। उक्त शब्द आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय नेता एडवोकेट नवीन जैरथ ने एक सभा को संबोधित करते हुए कहे। उन्होंने कहा कि यदि इस समय पंजाब की अकाली भाजपा सरकार ने हर तरफ लूट मचा रखी है तो 9 वर्ष पहले कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में चली कांग्रेस सरकार का भी यही हाल था। जैरथ ने कहा कि इस समय भी कैप्टन अमरिंदर पर पंजाब में भ्रष्टाचार के कई संगीन मामले चल रहे हैं। यदि वास्तव में देखा जाए तो अकाली-भाजपा व कांग्रेस सब अपस में मिले हुए हैं। इस सभी पार्टियों का एकमात्र लक्षय सत्ता में बैठ आम जनता को लूटना है। इन पार्टियों के नेता जनता के टैक्स की जमां पूंजी से खुद ऐशोआराम करते हैं।
    एडवोकेट जैरथ ने कहा कि कुछ वर्ष पूर्व जब आम आदमी पार्टी ने पंजाब कांग्रेस के प्रधान कैप्टन अमरिंदर के परिवार के सदस्यों का स्विस बैंक में खाते होने की जानकारी दी थी तब किसी ने भी इस बात की तरफ तवज्जो नहीं दी थी। अब केन्द्र सरकार के परिवर्तक निदेशालय ने कैप्टन के बेटे रणइन्द्र को स्विस बैंक के खातों के लिए नेटिस भेजा है। अब यह सच्चाई जग जाहिर हो चुकी है कि कैप्टन परिवार के स्विस बैंकों में कई खाते हैं। ऐसे में कैप्टन अमरिंदर को खुद ही इन खातों की जानकारी जनता को देनी चाहिए। जैरथ ने कहा कि चाहे इस समय कैप्टन वित्त मंत्री अरु ण जेतली पर बदले की राजनीति का आरोप लगा रहे हैं लेकिन यह कैप्टन स्वयं जानते हैं कि यह मामला वर्ष 2011 का है जब केन्द्र में कांग्रेस की सरकार थी। उन्होंने कहा कि पंजाब की जनता अब कांग्रेस, भाजपा व अकाली दल के नेताओं के भ्रष्टाचार के खेल को जान चुकी है। जनता अब बेसबरी से 2017 के चुनाव का इंतजार कर रही है ताकि वह प्रदेश में ‘आप’ की सरकार बना सके।
    फोटो-जनसभा को संबोधित करते हुए ‘आप’ की राष्ट्रीय परिषद के सदस्य एडवोकेट नवीन जैरथ।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here