कांग्रेस को लेकर क्या कहा हंस राज हंस ने ? जानने के लिए पढ़े पूरी खबर

    0
    15

    कांग्रेस में खलनायक नहीं नायक की भूमिका निभा रहा हूं : हंसराज हंस

    कांग्रेस में खलनायक नहीं नायक की भूमिका निभा रहा हूं : हंसराज हंस

    जालंधर: प्रदेश कांग्रेस के उपप्रधान हंसराज हंस ने कहा कि दलित राजनीति पर 2-3 परिवारों ने एकछत्र कब्जा जमा रखा है और परिवारवाद व वंशवाद की बरसों से चली आ रही इसी परम्परा के कारण कांग्रेस को भारी नुक्सान उठाना पड़ा है।

    हंस ने कहा कि उक्त दलित परिवार किसी नए चेहरे को राजनीति में आगे आने नहीं देते हैं। उन्होंने कहा कि हाईकमान ने मुझे सभी दलित बिरादरियों को एकजुट करने की जिम्मेदारी सौंपी है परंतु समाज तभी जुड़ेगा जब सभी को उनका बनता हक मिलेगा। प्रदेश भर में अनेकों ऐसे दलित नेता हैं जिनमें काबिलियत होने के बावजूद उन्हें चुनाव लडऩे का मौका नहीं मिला। हंस ने कहा कि रविदास, वाल्मीकि, ङ्क्षहदू सभी को टिकटें दो, कांग्रेस को कोई हरा नहीं पाएगा। उन्होंने बताया कि उक्त दिग्गज नक्शा पेश कर रहे हैं कि हंस खलनायक की भूमिका अदा कर रहा है जबकि मैं कांग्रेस में खलनायक की नहीं बल्कि नायक की भूमिका निभा रहा हूं। क्योंकि हंस का काम ही होता है कि वह दूध का दूध व पानी का पानी करे।

    हंस ने कहा कि चंडीगढ़ में हुए दलित सम्मेलन में दलितों के उत्थान व उनकी समस्याओं पर विचार-विमर्श करने की बजाय कुछ नेताओं ने अपनी इसे राजनीति चमकाने का प्लेटफार्म बना लिया था जोकि मुझसे बर्दाश्त नहीं हुआ और मैंने अपना खुलकर विरोध जाहिर किया। हंस ने कहा कि वह अपने स्टैंड पर अडिंग हैं क्योंकि मैं बागी नहीं बल्कि जज्बाती नहीं हूं। कांग्रेस के मिशन 2017 को सफल बनाना व कै. अमरेन्द्र सिंह को मुख्यमंत्री के रूप में देखना ही उनका एकमात्र सपना है। हंस ने कहा कि अब कांग्रेस ही उनकी कर्म-भूमि है वह पार्टी के साथ चट्टान की तरह खड़े हैं और मरते दम तक खड़े रहेंगे। विधानसभा चुनाव लडऩे के सवाल पर हंस ने कहा कि पार्टी से बड़ा कुछ नहीं हाईकमान उनकी जो भी ड्यूटी लगाएगी वह उसे पूरी निष्ठा के साथ पूरा करेंगे।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here