एक ऐसा भिखारी जो हीरो बन गया, मिलेगा लिट्रेसी हीरो अवॉर्ड

    0
    30

    मेहसाना  : क्या आप मेहसाना निवासी खिमजी प्रजापति को जानते हैं। नहीं जानते तो हम आपको बताते हैं इस शख्स के बारे में।  खिमजी प्रजापति भीख मांगता है और लिट्रेसी हीरो अवॉर्ड के लिए चुना गया है। खिमजी प्रजापति नाम के इस भिखारी को रोटरी क्लब ऑफ इंडिया ने इस अवॉर्ड के लिए चुना है। खिमजी प्रजापति को समाज में परोपकार के काम करने के लिए एक प्रशंसापत्र और 1 लाख रुपए इमानी राशि के रूप में दिए जाएंगे। खिमजी प्रजापति की उदारता ये है कि वे लड़कियों को शिक्षा देने के लिए प्रेरित करते हैं। लड़कियों की पढ़ाई के लिए प्रेरित करने के लिए वे उन्हें सोने के कुंडल देते हैं। खिमजी प्रजापति अपनी इस अनोखी सेवा के लिए इलाके में काफी मशहूर हैं। खिमजी प्रजापति ने फरवरी 2016 में मेहसाना के मागपरा गांव स्थित आंगनवाडी स्कूल में पढऩे वाली 10 बच्चियों को सोने के कुंडल दिए थे। प्रजापति ने इसी इलाके में स्थित जैन मंदिर के बाहर भीख मांगकर पैसे एकत्रित किए और इन्हीं पैसों से प्रजापति ने बच्चियों को सोने के कुंडल दिए। प्रजापति का कहना है कि उनकी इकलौती उम्मीद यह है कि बच्चे पढें, युवा पीढी ज्यादा सशक्त बने और सब खुश रहें।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here