उड़ी सेक्टर में शहीदहुए जवानों की सहायतार्थ एक ध्वज मार्च निकाला

    0
    19

    होशियारपुर। भगवान श्री परशुराम सेना के आह्वान पर विभिन्न संगठनों की ओर से उड़ी सेक्टर में शहीदहुए जवानों की सहायतार्थ एक ध्वज मार्च निकाला गया। शहर के नई आबादी से शुरू हुआ यह मार्च विभिन्नबाजारों से होता हुआ घंटाघर चौक पर जाकर संपन्न हुआ। बड़ी संख्या में युवाओं ने मार्च में हिस्सा लिया।इस दौरान शहीद परिवारों की मदद के लिए फंड भी जुटाया गया।

    भगवान श्री परशुराम सेना सेना के आवाहन पर हिंदू संघ, बजरंग दल, विहिप, ब्राह्मण कल्याण परिषद,ब्राह्मण सभा भारत, युवा परिवार और शिव शक्ति संकीर्तन मंडल सहित विभिन्न संगठनों की ओर से एकसंयुक्त ध्वज मार्च निकाला गया। पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को श्रद्धांजलि देने के बाद निकाले गएइस मार्च का बजरंग दल -विहिप के जिला सह-संयोजक कमल सैनी ने आगाज किया।  भगवान श्रीपरशुराम सेना सेना के जिलाध्यक्ष आशुतोष शर्मा के नेतृत्व में निकाला गया यह मार्च नई आबादी से शुरूहुआ। इस दौरान बड़ी संख्या में युवा पाकिस्तान के विरोध में व देश के शहीदों के अमर रहने के नारे लगातेहुए मार्च में शामिल हुए। इस दौरान आशुतोष शर्मा ने कहा कि पड़ोस में बैठा (ना)पाक अपनी औकात भूलाबैठा है। आज तक पाकिस्तान ने चार बार भारत के साथ युद्ध किया और चारं बार मुंह की खाई। इसी केचलते अब खुले युद्ध का साहस न जुड़ा कर ये (ना)पाकिए बार-बार ऐसी ओछी हरकतें करते हैं। ङर बारबीरतीय सेना उन्हें इन घटिया हरकतों का माकूल जवाब भी देती है। अफसोस की बात कि देश के जवान तोअपना घरबार छोड़ कर देश और हमारी सुरक्षा के लिए दुश्मन की बरसती गोलियों के आगे सीना तान करखड़े होते हैं लेकिन जिन लोगों की खातिर वह जान की बाजी लगा रहे हैं वह अपने शहीदों को श्रद्धांजलि देनेतक के लिए घरों से नहीं निकलते। उनका कहना था कि सिर्फ प्रोफाइल फोटो में झंडा या सेना के चिन्ह लगादेने से या सोशल मीडिया पर दुश्मन को सबक सिका देने, सीधा युद्ध किए जाने समेत ऐसी ही और लंबी-लंबीहांकना देश भक्ति नहीं। सिविलियन अगर और कुछ नहीं कर सकते तो अपने घरों से निकल कम से कमशहीदों को श्रद्धा के दो फूल तो अर्पित कर ही सकते हैं। उनके परिजनों की आर्थिक मदद में तो सहयोग दे हीसकते हैं लेकिन अगर हम इतना भी नहीं कर सकते तो खुद को भारतीय कहने का हमें कोई हक नहीं।आशुतोष ने कहा कि इस मार्च का मकसद देश वासियों को शहीदों के साथ जोड़ना और उनके परिवारों कीमदद के लिए प्ररित करना है। शर्मा ने कहा कि यह मार्च इस बात का द्योतक है कि समस्त देशवासी अपनेवीर भारतीय जवानों के साथ हैं और जरूरत पड़ने पर खूनदान करने से लेकर वतन के लिए अपना लहू देनेतक को तैयार हैं।  इस अवसर पर केसी शर्मा, नरिंदर परशा, अजय ऐरी, संजीव चौहान मिंटा, प्रिंस जौली,मुकेश डावर, संदीप जोशी, नरेश, रोहित रावल, पंकज बेदी, जेके चड्ढा, हनी तनेजा, राजीव शर्मा, रजतठाकुर, राजवीर िंसह, अरूण गुज्जर, लक्की गौरव, दीपक पराशर, मदन लाल सूद, दीपक लाडी, संदीप जजऔर बड़ी संख्या में विबिन्न संगठनों के नौजवान मौजूद रहे।

    Attachments area

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here