आखिर क्यों मुकेरियां में शोक की लहर फैल गई ? जानने के लिए पढ़े पूरी खबर

    0
    7
    गांव मीरपुर के जवान राजिंदर सिंह पुत्र केहर सिंह तेवांग (अरूणाचल प्रदेश) में अपीन ड्यूटी (जीआरईएफ) के दौरान मौत होने से हलका मुकेरियां में शोक की लहर फैल गई। जीआरईएफ के अधिकारी सुरजीत सिंह ने बताया कि चीन बार्डर पर सड़क बनाने का काम हमारे विभाग के राजकुमार और राजिंदर सिंह की देखरेख में हो रहा था। सड़क से इन अधिकारियों की अध्यक्षता में पत्थरों को डोजर के साथ रास्ते से हटाया जा रहा था। डोजर की आवाज ज्यादा होने के कारण पहाड़ों से पत्थर गिरने की आवाज इन दोनो को नहीं सुनाई दी।
    जिसके कारण एक बड़ा पत्थर राजिंदर सिंह को आकर लगा। जिसके कारण वह घायल हो गया। फिर इसको और इसके साथ राजकुमार को घायल अवस्था में हर्ट स्परिंग अस्पताल तेवांग लेकर गए तो उन्होंने इसे मृत घोषित कर दिया। रजिंदर सिहं के शव को उसके परिजनों को सौंपा गया और अंतिम संस्कार किया गया। पुलिस प्रशासन द्वारा राजिंदर सिंह को अंतिम सलामी दी गई।
    इस दौरान एसडीएम हरचरण सिंह, डीएसपी भूपिंदर सिंह, एसएचओ रंजीत सिंह, ठाकुर रघुनाथ सिंह चेयरमैन, बलजीत सिंह छन्नी, सरपंच गोपाल, नंबरदार रणवीर सिंह, दिलावर सिंह व अन्य शामिल थे।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here