अहिंसा व संयम ही मनुष्य को आत्मोत्थान करने के लिए सार्थकता देता है : साध्वी नयप्रज्ञा

    0
    11

    अहिंसा व संयम ही मनुष्य को आत्मोत्थान करने के लिए सार्थकता देता है : साध्वी श्री नयप्रज्ञा जी
    -एस.ए.वी. जैन डे बोर्डिंग स्कूल में श्रद्धा भाव से मनाया गया साधाॢमक वात्सल्य
    होशियारपुर, 12 सितम्बर () : जैन धर्म के पर्व पयुर्षणों के बाद श्री आत्मानंद जैन सभा के प्रधान राकेश कुमार पप्पी की अध्यक्षता में एस.ए.वी. जैन डे बोर्डिंग स्कूल में साधाॢमक वात्सल्य पंच कल्याणक पूजा बड़े ही श्रद्धा भाव से की गई। इस पूजा का लाभ लाला विजय कुमार सुशील कुमार जैन कोठी वालों ने लिया। इस महापूजन को साध्वी श्री नयप्रज्ञा जी, साध्वी श्री प्रशमरत्ना जी, साध्वी श्री दिव्यप्रज्ञा जी, साध्वी श्री ह्रीं रत्ना जी, साध्वी श्री ध्यान रत्ना जी, साध्वी श्री निधान रत्ना जी, साध्वी श्री प्रज्ञ रत्ना जी ने विधिपूर्वक इस महापूजन को करवाया। इस अवसर पर उपस्थिति को संबोधित करते हुए साध्वी श्री नयप्रज्ञा जी ने कहा कि मनुष्य के जीवन में केवल रोटी कपड़ा व मकान ही जीवन को सार्थक नहीं करता बल्कि इसके साथ सत्य, अहिंसा, संयम व तय ही मनुष्य को आत्मोत्थान करने के लिए सार्थकता देता है। उन्होंने कहा कि काल चक्र के तीसरे आरे में मानव जाति कल्प वृक्षों के सहारे जीवन व्यतीत करती थी तब समयादोषों के अनुसार असि (अस्त्र विद्या), मसि (लेखन), कृषि विद्या, वाणिजय और शिल्प इन छह कर्मों के द्वारा समाज को विकास का मार्ग सुझाया वहीं अहिंसा संयम, तप के उपदेश द्वारा समाज की आंतरिक चेतना को भी जगाया। इस अवसर पर मीनाक्षी जैन धर्मपत्नी राकेश कुमार जैन पप्पी, माला जैन धर्मपत्नी नवनीत जैन, किरण जैन धर्मपत्नी प्रदीप कुमार जैन ने 32-32 उपवास करके मास खमण किया और उमेश जैन ने 17 उपवास किए। इस मौके पर इनका श्री आत्मानंद जैन सभा के प्रधान राकेश कुमार पप्पी, महामंत्री अजित जैन, शिक्षा निधी के प्रधान जीवन जैन आदि ने बहुमान किया। इस पूजा में चितरंजन जैन, राजेश जैन, राकेश जैन, बोबी जैन आदि पदाधिकारियों के अलावा सैंकड़ों श्रावक-श्राविकाओ ने भाग लिया।
    12 एचएसपी
    एस.ए.वी. जैन डे बोर्डिंग स्कूल में मास खमण करने वालों को सम्मानित करते श्री आत्मानंद जैन सभा के पदाधिकारी।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here