विजीलैंस ब्यूरो ने पंचायत सचिव को 10,000 रुपए की रिश्वत लेते हुए किया काबू

0
52

चंडीगढ़, 1 जुलाई: पंजाब विजीलैंस ब्यूरो ने समाज में भ्रष्टाचार को खत्म करने के उद्देश्य से आज जि़ला होशियारपुर के ब्लॉक तलवाड़ा में तैनात पंचायत सचिव अनिल कुमार को 10,000 रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों काबू किया है।

इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए पंजाब विजीलैंस ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री भगवंत मान के दिशा-निर्देशों पर विजीलैंस ब्यूरो ने राज्य के सरकारी कार्यालयों और सार्वजनिक जन जीवन से भ्रष्टाचार को ख़त्म करने के लिए मुहिम शुरु की है। इस सम्बन्धी विजीलैंस ब्यूरो ने ब्लॉक तलवाड़ा के गाँव चंगरवां के सरपंच और शिकायतकर्ता सुषमा देवी की शिकायत पर बी.डी.पी.ओ कार्यालय तलवाड़ा, होशियारपुर के अधीन आने वाले गाँव चंगरवां में तैनात पंचायत सचिव अनिल कुमार को रिश्वत लेने के दोष के अंतर्गत गिरफ़्तार किया है।

उन्होंने बताया कि शिकायतकर्ता ने विजीलैंस ब्यूरो से संपर्क कर दोष लगाया है कि कथित दोषी पंचायत सचिव अनिल कुमार ग्राम पंचायत फंडों के ऑडिट के नाम पर रिश्वत की माँग कर रहा था, जिसका निपटारा ऑडिट टीम द्वारा पहले ही किया जा चुका था। उक्त दोषी पंचायत को यह कह कर धमका रहा था कि अगर रिश्वत की रकम ना दी गई तो ऑडिट करने वालों द्वारा फंड के प्रयोग सम्बन्धी दोषपूर्ण और गलत रिपोर्ट पेश कर दी जाएगी।

तथ्यों की जाँच-पड़ताल के बाद विजीलैंस टीम हरकत में आई और दोषी को दो सरकारी गवाहों की हाजिऱी में रंगे हाथों काबू कर लिया गया और उसके पास से रिश्वत के पैसे भी मौके पर ही बरामद किए गए।

प्रवक्ता ने बताया कि इस सम्बन्ध में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 7 के तहत विजीलैंस ब्यूरो के थाना जालंधर में एफ.आई.आर नंबर 10, तारीख़ 01-07-2022 के अंतर्गत मामला दर्ज करके अगली कार्यवाही जारी है।
—————-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here