जानिए यूरोपीय यूनियन से जुड़ी 10 खास बातें

    0
    102

    ब्रिटेन में शुक्रवार को यूरोपीय यूनियन में रहने या न रहने के प्रश्न पर जनमत संग्रह हुआ और इसका जो नतीजा आया उससे यह निश्चित हो गया है कि अब भविष्य में ब्रिटेन यूरोपीय यूनियन का सदस्य नहीं रहेगा। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन चाहते थे कि ब्रिटेन यूरोपीय यूनियन के साथ रहे और वोटिंग में हुई हार के बाद कैमरन ने कहा कि वो जल्दी ही अपने पद से इस्तीफा देंगे।

     

    वोटिंग में भाग लेने वाले 52 फीसदी वोटरों ने यूरोपीय यूनियन से ब्रिटेन के बाहर होने के पक्ष में वोट दिया जबकि 48 फीसदी लोगों ने यूरोपीय यूनियन के साथ रहने के लिए वोट दिया। ब्रिटेन की जनता के इस फैसले की वैश्विक स्तर पर चर्चा हो रही है, यहां पर यूरोपीय यूनियन से संबधित खास बातों पर नजर डालेंगे…
    1- क्या है यूरोपीय यूनियन
    यूरोपियन यूनियन यूरोप के 28 देशों का एक राजनैतिक एवं एवं आर्थिक मंच है जहां पर ये सदस्य देश अपने प्रशासकीय कार्य करते हैं, यूरोपीय यूनियन के नियम सभी सदस्य देशों पर लागू होता है।

     

    2- 1957 से हुई इसकी शुरुआत
    1957 में रोम की संधि द्वारा यूरोपीय आर्थिक परिषद के माध्यम से छह यूरोपीय देशों ने अपने आर्थिक हितों को ध्यान में रखकर इसकी स्थापना की और इसमें समय के अनुसार बदलाव होता रहा और 2007 में लिस्बन समझौते के तहत सुधारों की प्रक्रिया 1 जनवरी 2008 से शुरु हुई। आज यूरोपीय यूनियन में 6 से बढ़कर सदस्य देशों की संख्या 28 हो चुकी है।

    3- सदस्य राष्ट्रों को एकल बाजार
    यूरोपिय यूनियन के सदस्य राष्ट्र एकल बाजार के रूप में व्यापार करते हैं इसके कानून सभी सदस्य देशों पर लागू होता है, यूरोपीय यूनियन के नागरिकों को व्यापार के लिए चार सुविधाएं निश्चित तौर पर मिलती हैं।

     

    4- एकल मुद्रा प्रणाली
    1999 में यूरोपिय संघ के 15 सदस्य देशों ने एक नई मुद्रा यूरो को अपनाया। इसके साथ यूरोपीय यूनियन ने अपनी विदेश, स्रुरक्षा, न्याय नीति की भी घोषणा की। यूरोपीय यूनियन के किसी देश में यात्रा करने के लिए पासपोर्ट की बाध्यता को खत्म कर दिया गया।

    5- यूरोपीय यूनियन है कई अंतरराष्ट्रीय संगठनों का सदस्य
    यूरोपीय यूनियन संयुक्त राष्ट्रसंघ एवं विश्व व्यापार संगठन में अपने सदस्य देशों का प्रतिनिधित्व करता है। यूरोपीय यूनियन के 21 देश नाटो के भी सदस्य हैं। यूरोपीय यूनियन के के महत्वपूर्ण संस्थानों में यूरोपियन कमीशन, यूरोपीय संसद, यूरोपीय संघ परिषद, यूरोपीय न्यायलय एवं यूरोपियन सेंट्रल बैंक इत्यादि शामिल हैं।

    6- 2012 में मिला शांति का नोबेल पुरस्कार
    यूरोपीय यूनियन को वर्ष 2012 में यूरोप में शांति और सुलह, लोकतंत्र और मानव अधिकारों की उन्नति में अपने योगदान के लिए नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

    7- 28 देशों का संगठन है यूरोपीय यूनियन
    यूरोपीय यूनियन में शामिल देशों में आस्ट्रिया, बेल्जियम, बुल्गारिया, साइप्रस, चेक गणराज्य, डेनमार्क, एस्तोनिया, फिनलैंड, फ्रांस, जर्मनी, ग्रीस, हंगरी, आयरलैंड, इटली, लातीविया, लिथुआनिया, लक्जमबर्ग, माल्टा, नीदरलैंड, पोलैंड, पुर्तगाल, रोमानिया, स्लोवाकिया, स्लोवानिया, स्पेन, स्वीडन, एवं युनाइटेड किंगडम और कोएशिया हैं, जबकि तीन देश इसका सदस्य बनने की प्रकिया में हैं और आधिकारिक घोषणा का इंतजार कर रहें हैं।

     

    8- सभी यूरोपीय देश नहीं हैं इसके सदस्य
    यूरोपीय यूनियन में कुछ यूरोपीय देश जैसे स्वीटजरलैंड, नार्वे, एवं सोवियत रूस इसका हिस्सा नहीं हैं। कुछ सदस्य राष्ट्रों के भूमि क्षेत्र भी यूरोप का हिस्सा होते हुए भी संघ के भौगोलिक नक्शे में शामिल नहीं है, उदहारण के तौर पर चैनल एवं फरोर द्वीप का हिस्सा।

    9- काउंसिल आफ यूरोपीय यूनियन है प्रमुख कार्यकारी संगठन
    यूरोपीय यूनियन अपने कई प्रशासनिक एवं अन्य इकाइयों द्वारा संचालित होता है, जिनमें मुख्य रूप से काउंसिल आफ यूरोपीय यूनियन, यूरोपीय कमीशन, एवं यूरोपीय पार्लियामेंट मुख्य हैं। यूरोपीय आयोग संघ के प्रमुख कार्यकारी अंग के तौर पर काम करता है और इसके प्रतिदिन के कामों की जिम्मेवारी इसी पर होती है।

    10- ब्रिटेन ने क्यों चुनी बाहर निकलने की राह
    – ब्रिटेन को यूरोपीय यूनियन के कानून का पालन करना पड़ता था जिसमें ब्रिटेन को दिक्कत का सामना करना पड़ता था।
    – ब्रिटेन यूरोपीय यूनियन में रहने के कारण प्रतिवर्ष कर्ज में डूबता जा रहा था।
    – ब्रिटेन में अवैध प्रवासियों की संख्या लगातार बढ़ रही थी और ब्रिटेन के लोगों की नौकरियों पर प्रवासियों ने कब्जा जमा रखा है है जिससे स्थानीय लोगों में आक्रोश बढ़ रहा था।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here