मोहाली में ब्लास्ट के बाद सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट, सीएम ने डीजीपी से मांगी रिपोर्ट

0
97

चंडीगढ़ : मोहाली में इंटेलिजेंस दफ्तर में राकेट प्रोपेल्ड ग्रेनेड से हुए हमले ने सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ा दी है। अभी दो दिन पहले ही भारी मात्रा में धमाकाखेज सामग्री पकड़े जाने से भी सुरक्षा एजेंसियों ने अलर्ट जारी किया था, लेकिन किसी को इस बात की भनक भी नहीं थी कि इस बार हमला पुलिस के इंटेलिजेंस विंग के दफ्तर पर होगा।

मोहाली में इंटेलिजेंस दफ्तर के बाहर पत्रकारों से बातचीत में डीजीपी वीके भावरा ने इसे आतंकी हमला मानने से इन्कार किया। कहा कि मामले की जांच जारी है। डीजीपी ने कहा कि विस्फोट के लिए टीएनटी का इस्तेमाल हुआ है। गिरफ्तारी के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इस संबंध में आपको बता दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि जल्द आरोपित गिरफ्त में होंगे।

वहीं, इंटेलिजेंस विभाग कीा थर्ड फ्लोर जहां पर राकेट टकराया था उसकी जांच के लिए दफ्तर में क्रेन मंगाई गई है, क्योंकि स्पॉट तीसरी मंजिल पर है, इसलिए माना जा रहा है कि फारेंसिक टीम क्रेन पर बैठकर बाहरी दीवारों का निरीक्षण करेंगी। दीवार की हालत देखकर ऐसा लग रहा है कि विस्फोट बड़ा नहीं था, क्योंकि जो खिड़की का कार्नर 3 से 4 इंच टूटा हुआ है और वहां के प्लास्टर उखड़ गया है। अंदर फाल सीलिंग भी उखड़ी हुई दिखाई दे रही है।

इससे पहले, मुख्यमंत्री ने मंगलवार सुबह ही इस मामले को लेकर डीजीपी वीरेश कुमार भावरा व अन्य उच्च अधिकारियों को तलब किया। उन्होंने कहा कि जो लोग भी पंजाब की शांति भंग करने की कोशिश करेंगे उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। मोहाली में हुए ब्लास्ट के बाद सुरक्षा एजेंसियां चौकस हो गई हैं। राज्य में हाई अलर्ट जारी किया गया। राजधानी चंडीगढ़ भी अलर्ट पर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here