राज कपूर फिल्म में चाचा नेहरू को लेना चाहते थे लेकिन इस कारण पीछे हट गए पूर्व प्रधानमंत्री

0
188

होशियारपुर। फ़िल्मी जगत। बॉलीवुड के मशहूर एक्टर राज कपूर ने अपनी फिल्मों और अपने अंदाज से हिंदी सिनेमा में जबरदस्त पहचान बनाई। उन्होंने 10 वर्ष की उम्र में फिल्म ‘इनकलाब’ से हिंदी सिनेमा में कदम रखा था और न केवल फिल्मों बतौर एक्टर काम किया, बल्कि कई फिल्मों को डायरेक्ट और प्रोड्यूस भी किया। राज कपूर को सिनेमा का ‘शो मैन’ भी कहा जाता था। यूं तो उन्होंने बॉलीवुड के कई सितारों को अपने साथ काम करने का मौका दिया था। लेकिन खास बात तो यह है कि एक फिल्म में वह भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू को भी कास्ट करना चाहते थे।

पंडित जवाहरलाल नेहरू को कास्ट करने से इतर फिल्म की शूटिंग का एक हिस्सा भी त्रिमूर्ति भवन में शूट होने वाला था। राज कपूर से जुड़ी इस बात का खुलासा इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट में हुआ था। रिपोर्ट के मुताबिक राज कपूर, पंडित नेहरू के बड़े प्रशंसक थे। उन्होंने 1957 की फिल्म ‘अब दिल्ली दूर नहीं’ में पूर्व प्रधानमंत्री को कास्ट करने पर भी विचार किया था।

राज कपूर की इस फिल्म में एक बच्चा चाचा नेहरू से मिलने के लिए किसी तरह से दिल्ली पहुंचता है। वह उनसे इस उम्मीद में मिलता है कि शायद उसके पिता की जेल की सजा कम हो जाए। ऐसे में बच्चे और चाचा नेहरू के मुलाकात का वो सीन तीन मूर्ति भवन में फिल्माया जाना था। लेकिन पंडित जवाहरलाल नेहरू की टीम ने उन्हें इस फिल्म में शामिल न होने की सलाह दी।

ऐसे में पंडित नेहरू ने राज कपूर के इस परियोजना से हटने का फैसला कर लिया। बता दें कि राज कपूर, देव आनंद और दिलीप कुमार ने पंडित जवाहरलाल नेहरू से मुलाकात भी की थी। इस बात का जिक्र खुद देव आनंद ने अपने एक इंटरव्यू में किया था। उन्होंने इस बारे में बताया था, “हम तीनों की पंडित नेहरू से आखिरी मुलाकात दिल्ली में हुई थी।”

देव आनंद ने पंडित जवाहरलाल नेहरू से हुई मुलाकात के बारे में कहा था, “हमने उस मुलाकात में उनके साथ दो घंटे बिताए थे। वह एक बच्चे की तरह थे और हम बिल्कुल उनके पोते जैसे थे। उस मुलाकात में हम बिल्कुल उनके फैंस के जैसे थे और एक-दूसरे से मजाक ही कर रहे थे।”

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here