स्वर्ण मंदिर में गुरुग्रंथ साहिब की बेअदबी करने वाले यूपी के युवक को लोगों ने पीट-पीटकर मार डाला

0
453

अमृतसर। नेटवर्क न्यूज़। अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में शनिवार को गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की कोशिश करने वाले युवक की हत्या कर दी गई। युवक ने मंदिर में सचखंड साहिब के अंदर बने जंगले को पार कर श्री गुरु ग्रंथ साहिब के अपमान की कोशिश की। युवक ने वहां रखी तलवार भी उठा ली थी। वहां मौजूद सेवादारों ने युवक को दबोच लिया।

सेवादारों ने युवक को तुरंत शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (SGPC) के हवाले कर दिया। SGPC पदाधिकारियों ने बताया कि मंदिर में मौजूद लोगों ने ही युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी। युवक उत्तर प्रदेश का बताया जा रहा है।

मंदिर में शाम 6 बजे पाठ के वक्त हुई घटना

गोल्डन टेंपल में सचखंड साहिब के अंदर शनिवार शाम करीब 6 बजे रहरास (शाम को किया जाने वाला श्री गुरु ग्रंथ साहिब का पाठ) चल रहा था। रोजाना की तरह संगत यहां माथा टेकने के लिए पहुंच रही थी।सचखंड साहिब में श्री गुरु ग्रंथ साहिब के आगे सुरक्षा के तौर पर जंगला बना हुआ है और उसके अंदर सिर्फ पाठी बैठकर पाठ करते हैं। संगत की कतार में शामिल युवक अपनी बारी आने पर सचखंड साहिब के अंदर पहुंचा और अचानक सुरक्षा के लिए लगाए गए जंगले को पार करते हुए गुरु ग्रंथ साहिब की ओर बढ़ा।

उसके ऐसा करते ही वहां हड़कंप सा मच गया और सेवादारों ने तुरंत ही उसे पकड़ लिया। मौके पर मौजूद कुछ लोगों ने बताया कि युवक ने श्री गुरु ग्रंथ साहिब के सामने रखी तलवार उठाने का प्रयास किया। वहीं कुछ लोगों का कहना था कि युवक गुरु ग्रंथ साहिब के समक्ष रखे फूल उठाने की कोशिश कर रहा था। सचखंड में मौजूद सेवादारों ने युवक को पकड़कर गोल्डन टेंपल में तैनात एसजीपीसी की टास्क फोर्स के हवाले कर दिया। टास्क फोर्स के सदस्य तुरंत युवक को बाहर ले गए।

SGPC के कार्यालय पर धरना

उधर, बेअदबी से गुस्साई सिख जत्थेबंदियों ने शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के कार्यालय के बाहर धरना शुरू कर दिया है। जत्थेबंदियों की मांग है कि बेअदबी के आरोपी की बॉडी दिखाई जाए। बेअदबी करने वाले का शव पुलिस को नहीं सौंपा जाना चाहिए था। उधर अमृतसर के DCP परमिंदर सिंह भंडाल ने बताया कि मृतक युवक का शव सिविल अस्पताल भेज दिया गया है।
गोल्डन टेंपल में हफ्तेभर में दूसरी घटना

15 दिसंबर को ही गोल्डन टेंपल में ही एक युवक ने गुटका साहिब पवित्र सरोवर में फेंक दिया था। गोल्डन टेंपल की परिक्रमा में मौजूद शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) के सेवादारों ने युवक को मौके पर ही पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। जिस युवक ने अपनी जेब से गुटका साहिब निकालकर सरोवर में फेंका, उसने अपने केस कटवाए हुए थे।

युवक ने अपना नाम रणबीर सिंह बताया। एसजीपीसी अध्यक्ष हरजिदर सिंह धामी ने पुलिस से आरोपी युवक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई और पूरे मामले की गहन जांच की मांग की थी। एसजीपीसी प्रधान ने यहां तक कहा था कि यह अचानक हुई घटना नहीं है बल्कि सोची-समझी साजिश है और इसका मकसद सिखों की भावनाओं को भड़काकर माहौल खराब करना है। गुरबाणी की बेअदबी घटिया मानसिकता को दर्शाती है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here