पिम्स (PIMS) में शुक्रवार को विद्यार्थियों ने प्रबंधन के खिलाफ खोल मोर्चा

0
66

जालंधर : जालंधर में PIMS के स्टूडेंट्स ने खोला प्रबंधन के खिलाफ मोर्चा, स्टाइपेंड बढ़ाने की उठाई मांग प्रबंधन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने प्रबंधन पर मान भत्ता (स्टाइपेंड) देने में घालमेल करने के आरोप लगाए हैं। प्रबंधन को बार-बार स्टाइपेंड बढ़ाने के लिए आवेदन किया परंतु प्रबंधन के कान पर जूं तक नहीं रेंगी । शुक्रवार को गुस्साए विद्यार्थियों ने प्रबंधन के खिलाफ धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया।पिम्स के रेजिडेंट डायरेक्टर ऑफिस के बाहर एमबीबीएस अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों ने धरना प्रदर्शन किया।

उनका कहना था कि मामले को लेकर प्रबंधन के साथ दो बार बैठकों का दौर चला लेकिन कोई परिणाम नहीं निकला। इसके बाद विद्यार्थियों ने संघर्ष तेज करने की मंशा से ओपीडी परिसर में धरना प्रदर्शन शुरू किया और प्रबंधन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। विद्यार्थियों ने कहा कि प्रबंधन उन्हें इंटर्नशिप के दौरान 8500 रुपये प्रति महीने दे रहा है जबकि बाबा फरीद यूनिवर्सिटी के तहत आने वाले सरकारी तथा गैर सरकारी मेडिकल कॉलेजों में 10,000 से 15000 रुपये प्रति माह मान भत्ता दिया जाता है।

इसके अलावा प्रबंधन विद्यार्थियों से साल भर में 10,000 रुपये ट्रांसपोर्ट फीस के तौर पर वसूल रहा है जबकि उन्हें साल में दो या तीन बार ही स्थानीय स्वास्थ्य केंद्रों में ले जाया जाता है। उनकी हाजिरी भी कम हो रही है। वे पूरे मसले को नया रूप दे रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here